इस मुल्क की हर शादीशुदा महिला बनाती है 7 गैर मर्दों से शारीरिक संबंध !

इस दुनिया के लगभग हर देश की अपनी एक अलग परंपरा और संस्कृति है जिसका पालन करना हर किसी के लिए जरूरी होता है. दुनियाभर में शादी-ब्याह से लेकर तीज-त्योहारों तक हर एक चीज से अजीबो गरीब परंपराएं और मान्यताएं जुड़ी हुई हैं.आज हम आपको इंडोनेशिया के बाली द्वीप की एक अजीबो-गरीब परंपरा के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में जानकर आप हैरत में पड़ जाएंगे.

इस परंपरा के मुताबिक हर शादीशुदा महिला को कम से कम 7 गैर मर्दों से शारीरिक संबंध बनाना पड़ता है. तो चलिए जानते हैं कि आखिर इस अजीबो-गरीब परंपरा के पीछे कौन सी मान्यता छुपी हुई है.

पॉन त्योहार से जुड़ी अजीबो-गरीब मान्यता

दरअसल इंडोनेशिया के बाली द्वीप पर हर साल पॉन त्योहार मनाया जाता है. इस पॉन त्योहार के दौरान यहां की शादीशुदा महिलाओं को एक पुरानी परंपरा का निर्वाह करते हुए अंजान मर्दों के साथ शारीरिक संबंध बनाना जरूरी होता है.

इस पॉन त्योहार को सालभर में करीब सात बार मनाया जाता है और इस परंपरा के तहत हर बार शादीशुदा महिलाओं को नए-नए साथी की तलाश करनी होती है और उनके साथ शारीरिक संबंध बनाने होते हैं.

पॉन त्योहार पर संबंध बनाने से पूरी होती है सारी मुरादें

इस रिवाज के अनुसार जो भी शादीशुदा महिला गैर मर्द से शारीरिक संबंध बनाती है तो इससे उसकी हर मुराद पूरी होती है. इसके साथ ही उनके निजी जीवन और परिवार में खुशियां बरकरार रहती है.

Gyan Dairy

लेकिन इस दौरान महिलाओं को इस बात का खास ख्याल रखना होता है कि हर बार पार्टनर नया होना चाहिए. कहा जाता है कि अगर कोई महिला किसी पुराने पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बनाती है तो इससे उसकी मुराद अधूरी रह जाती है.

पॉन त्योहार से जुड़ी है एक कहानी

साल में सात बार मनाए जानेवाले इस त्योहार के पीछ एक कहानी काफी प्रचलित है. इस कहानी के मुताबिक इंडोनेशिया का एक युवा राजा अपनी ही सौतेली मां से प्यार करता था.एक बार जिस वक्त दोनों शारीरिक संबंध बना रहे थे उसी दौरान उनकी हत्या कर दी गई और गुनुंग केमुकुस में माउंटेन के टॉप पर उन्हें दफना दिया गया.

इसलिए आज भी लोगों की ऐसी मान्यता है कि जो कोई इस माउंटेन के टॉप पर शारीरिक संबंध बनाता है उनका भाग्य चमकता है और मन की सारी मुराद पूरी होती है. गौरतलब है कि हर साल यहां की शादीशुदा महिलाएं कम से कम 7 अजनबी पुरुषों से संबंध बनाती हैं ताकि अपनी निजी जिंदगी और परिवार को खुशियों से भर सकें.

Share