इन दिनों पुरुषों से शारीरिक संबंध बनाने के लिए बेताब रहती हैं महिलाए !

कहते हैं कि महिलाओं के मन में क्या चल रहा है इस बात का अंदाजा लगाना काफी मुश्किल है. तकरीबन सभी महिलाओं का स्वभाव पुरुषों की समझ से थोड़ा परे होता है. खासकर शारीरिक संबंधों की बात करें तो महिलाएं अक्सर इस मसले पर खुलकर बात करने से कतराती हैं. महिलाएं इस मामले पर अपने पार्टनर से भी बात करने में शर्माती हैं.

आमतौर पर भले ही महिलाएं सेक्स से जुड़ी अपनी भावनाओं का इजहार न करती हो लेकिन महीने भर में कुछ ऐसे खास दिन भी होते हैं, जब महिलओं के अंदर सेक्स की भावना तेजी से जागृत होती है.

पीरियड्स के बाद बढ़ जाती है सेक्स की इच्छा और जागृत होती है सेक्स की भावना

अगर आप अपने पार्टनर के साथ सेक्स का भरपूर आनंद उठाना चाहते हैं तो आपके महिलाओं से जुड़ी कुछ खास जानकारियां होनी बेहद जरूरी है. जर्मनी के यूनिवर्सिटी ऑफ बेम्बर्गन के शोधकर्ताओं ने सैकड़ो महिलाओं एक रिसर्च किया जिसमें पाया गया था कि किस समय महिलाएं सेक्स के लिए सबसे ज्यादा आतुर रहती हैं.

सेक्सोलॉजिस्टों के मुताबिक हर महीने मासिक धर्म पूरा हो जाने के पांच से सात दिन तक महिलाएं में सेक्स की भावना जागृत होती है और वो सेक्स के मूड में ज्यादा होती हैं क्योंकि मासिक पीरियड पूरा होने के बाद महिलाओं में सेक्स के लिए उत्तेजित करने वाले हार्मोन्स साक्रिय हो जाते हैं. सर्वे के मुताबिक जब महिलाओं को मासिक धर्म होता है तो उसके बाद महिलाओं में प्रजनन क्षमता बढ़ जाती है.

Gyan Dairy

यह समय महिलाओं के मां बनने के लिए सबसे अच्छा समय माना जाता है क्योंकि इस दौरान महिलाओं की सेक्स की भावना बढ़ जाती है और महिलाएं संबंध बनाने के लिए आतुर होती हैं. इस समय में किए गए सेक्स में जो आनंद आता है वह अन्य दिनों के मुकाबले कहीं अधिक होता है.

इसके अलावा सर्वे में यह भी पाया गया है कि पीरियड्स के बाद वाले दिनों में महिला और पुरुष के बीच बनाए जानेवाले शारीरिक संबधों से उनका वैवाहिक जीवन सुखमय हो जाता है और भविष्य में दोनों के बीच सेक्स को लेकर किसी तरह का मनमुटाव भी नहीं होता है.

अगर आप वाकई में अपनी पार्टनर के साथ सेक्स का भरपूर आनंद उठाना चाहते हैं तो फिर पीरियड्स के बाद वाले दिन आपके लिए सबसे रोमांटिक साबित हो सकते हैं क्योंकि इन दिनों में आपकी पार्टनर आपको बिल्कुल भी निराश नहीं करेगी और आपका भरपूर साथ भी देगी.

Share