कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयार होंगे 1 लाख योद्धा, PM मोदी ने की शुरुआत

नई दिल्ली। कोरोना से जंग में फ्रंटलाइन वर्करों के लिए एक क्रैश कोर्स लॉन्च हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्रैश कोर्स लॉन्च करते हुए देश को कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयार रहने का संदेश दिया। पीएम मोदी ने कहा कि आज शुरू हो रहे क्रैश कोर्स से 1 लाख कोरोना वारियर्स तैयार किये जाएंगे। पीएम मोदी ने क्रैश कोर्स करने वाले फ्रंटलाइन वर्करों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जल्द ही वो लोग हेल्थकेयर वर्करों के सहयोग के लिए तैयार हो जाएंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कोरोना वारियर्स के लिए विशेष रूप से तैयार किए गए इस ‘क्रैश कोर्स प्रोग्राम’ का शुभारंभ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए किया। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना 3.0 के तहत देश भर के 26 राज्यों में स्थित 111 प्रशिक्षण केंद्रों में की जाएगी। लॉन्च के इस मौके पर स्किल डेवलपमेंट एंड एंटरप्रेन्योरशिप के केंद्रीय मंत्री भी मौजूद रहे।

इस मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि ‘इस कोविड-19 महामारी ने दुनिया के हर देश, हर संस्था, हर समाज, हर परिवार, हर इंसान के सामर्थ्य को बार-बार परखा है। इस महामारी ने साइंस, सरकार, समाज, संस्था और व्यक्ति के रूप में हमें अपनी क्षमताओं का विस्तार करने के लिए सतर्क भी किया है।’ पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना से लड़ रही वर्तमान फोर्स को सपोर्ट करने के लिए देश में करीब 1 लाख युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है, ये कोर्स 2-3 महीने में ही पूरा हो जाएगा।

Gyan Dairy

 

Share