ब्रिटेन से भारत आये विमान में मिले 5 कोरोना पॉजिटिव, आज से यात्रा पर पाबंदी

नई दिल्ली: चीन से फैले कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में तबाही मचा दी वहीं अब यूनाइटेड किंगडम में उभरे नए कोरोना वायरस की मार दूसरे देशों तक पहुंचने लगी है। हालांकि दुनिया के करीब 30 से ज्‍यादा देशों ने ब्रिटेन से आने और जाने वाले फ्लाइट को रद्द कर दिया है। ऐसे में अत्यधिक संक्रामक को देखते हुए भारत में हवाई अड्डों को अलर्ट पर रखा गया है और ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों को RT-PCR COVID-19 परीक्षण से गुजरना पड़ रहा है।

सरकार ने ब्रिटेन से मंगलवार (22 दिसंबर) की मध्यरात्रि से 31 दिसंबर की मध्यरात्रि तक ब्रिटेन की सभी फ्लाइट पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। सोमवार की रात ब्रिटेन की राजधानी लंदन से दिल्ली में उड़ान भरने वाले पांच व्यक्तियों को कोरोना वायरस टेस्‍ट में पॉजिटिव पाया गया है। हालांकि यह अभी स्‍पष्‍ट नहीं है कि यह लोग नए COVID-19 के रूप के शिकार हैं या नहीं।

दिल्ली हवाई अड्डे पर COVID-19 के नोडल अधिकारी ने कहा कि नमूने प्रयोगशाला परीक्षण के लिए भेजे गए हैं और संक्रमित यात्रियों को एक क्‍वारंटीन केंद्र में ले जाया गया है। उन्‍होंने कहा, “266 यात्रियों और चालक दल के पांच सदस्यों को कल रात लंदन से दिल्ली हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद COVID-19 पॉजिटिव पाया गया है। उनके नमूने टेस्‍ट के लिए एनसीडीसी को भेजे गए हैं और उन्हें एक क्‍वारंटीन केंद्र भेजा गया है।”

सोमवार शाम को केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने घोषणा की कि ब्रिटेन से भारत आने वाले यात्रियों को अनिवार्य COVID-19 परीक्षणों से गुजरना होगा। उन्‍होंने कहा, “यूके में मौजूदा स्थिति को देखते हुए भारत सरकार ने निर्णय लिया है कि यूके से भारत आने वाली सभी उड़ानों को अस्थायी रूप से 31 दिसंबर 11:59 बजे तक निलंबित कर दिया जाएगा। यह निलंबन 22 दिसंबर से 11.59 बजे को लागू होगा।”

Gyan Dairy

मंत्रालय ने कहा, “अत्यधिक सावधानी के उपाय के रूप में सभी उड़ानों में ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों (उड़ान भर चुके हैं या जो उड़ानें भारत में 22 दिसंबर को रात 11.59 बजे से पहले पहुंच रही हैं) को हवाई अड्डों पर आने के साथ ही आरटी-पीसीआर टेस्‍ट कराना होगा।”

महाराष्ट्र सरकार ने सोमवार को घोषणा की कि यूरोपीय और मध्य पूर्व देशों से आने वाले यात्रियों को 14 दिनों के लिए क्‍वारंटीन केंद्रों में भेजा जाएगा। अन्य देशों से अंतर्राष्ट्रीय आवक को भी घर पर क्‍वारंटीन होना होगा।

 

Share