जम्मू-कश्मीर में चल रहे अभियान के दौरान बीते 18 घंटे में मारे गये 7 आतंकी, एक गिरफ्तार

जम्मू कश्मीर। इस समय जम्मू कश्मरी में पुलिस और राष्ट्रीय रिजर्व (आरआर) बटालियन के द्वारा अभियाना चलाया जा रहा है। शुक्रवार से चली करीब 18 घंटे की कार्रवाई के दौरान 7 आतंकियों को मार गिराया गया। जम्मू कश्मीर जनरल ऑपरेशन कमांडिंग (जीओसी), विक्टर फोर्स ए. सेनगुप्ता ने बताया कि इस दौरान एक आतंकी ने सरेंडर भी किया है।

ए. सेनगुप्ता ने बताया कि शनिवार को बताया कि आतंकवादियों में से 7 को 2020 में भर्ती किया गया था। इन गुमराह युवाओं को पाकिस्तानी आतंकवादियों, पाकिस्तानी संचालकों और देश विरोधी भावना वाले लोगों द्वारा झूठे वादों के साथ भर्ती किया गया था।

जम्मू कश्मीर के सांबा सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर क्षेत्र के नजदीक एक सुंरग मिली है। ये सुरंग भारतीय सुरक्षाबलों को शुक्रवार को मिली थी। सुरंग को लेकर जम्मू में बीएसएफ के आईजी एनएस जम्वाल ने बताया कि शुक्रवार को टीम ने इस सुरंग को ढूंढ निकाली है। उन्होंने कहा कि यह 150 गज जीरो लैंड से भारत की तरफ खुदी हुई है।

Gyan Dairy

उन्होंने कहा कि इसका एग्जिट प्वाइंट भी भारत की तरफ है और वहां पर रेत से भरी बोरी मिली हैं जिन पर पाकिस्तान की मार्किंग है। जम्वाल ने बताया है कि रेत से भरी बोरी की हालत देखने से लगता है कि ये टन्नल नई है। बॉर्डर एरिया में इतनी बड़ी सुरंग पाकिस्तान रेंजर्स और दूसरी एजेंसियों के अप्रूवल के बिना नहीं बन सकती। उन्होंने कहा कि इतनी बड़ी सुंरग खोदने में जरूर पाकिस्तान एस्टाब्लिशमेंट का हाथ है। बताया जा रहा है कि यह सुरंग 20 फीट लंबी है और 3-4 फीट चौड़ी है।

सुरंग के पास जो रेत की बोरी मिली है उस पर कराची और शकरगढ़ लिखा हुआ है। इसके अलावा रेत की बोरी पर टेलीफोन नंबर भी छपे हुए हैं। जैसा कि आमतौर पर सीमेंट की बोरियों पर छपा रहता है। जहां सुरंग मिली है वहां से पाकिस्तान की चौकी महज 400 मीटर की दूरी पर है।

Share