आप नेता का दावा, दिल्ली निकाय चुनाव में बीजेपी के आंतरिक सर्वे में नहीं मिल रहीं 50 सीटें

नई दिल्ली। दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी दिल्ली के नगर निगमों में भी अपना बर्चस्व चाहती है। इस बीच आप नेता दुर्गेश पाठक ने दावा किया है कि बीजेपी के आंतरिक सर्वेक्षण में पता चला है कि अगले साल होने वाले दिल्ली निकाय चुनावों में भाजपा को 40-50 सीटें मिलना मुश्किल होगा। आम आदमी पार्टी के नेता दुर्गेश पाठक के दावे पर दिल्ली भाजपा के प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने कहा कि आम आदमी पार्टी भाजपा के लिए “मनगढ़ंत” सर्वेक्षण कर रहा है। दिल्ली के तीनों नगर निगमों (एमसीडी) पर भाजपा का शासन है।

आम आदमी पार्टी के एमसीडी प्रभारी दुर्गेश पाठक ने कहा कि पिछले चुनाव में दिल्ली की जनता ने 181 सीटें देकर तीनों नगर निकायों की बागडोर भाजपा को सौंपी थी। हालांकि, उन्होंने भाजपा पर एमसीडी को बर्बाद करने का आरोप लगाया। पाठक ने दावा किया कि भाजपा द्वारा किए गए एक आंतरिक सर्वेक्षण से पता चला है कि पार्टी के लिए अगले एमसीडी चुनावों में 40-50 सीटें भी जीतना मुश्किल होगा।

दिल्ली को विश्वस्तरीय शहर बनाने के लिए दिल्ली और एमसीडी दोनों पर ‘आप’ का शासन हो जरूरी है। वहीं, भाजपा प्रवक्ता प्रवीण शंकर कपूर ने दिल्ली को विश्वस्तरीय शहर बनाने के आप’ के दावे को नौटंकी बताकर खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि यह अजीब है कि ‘आप’ अब भाजपा के लिए ‘काल्पनिक’ सर्वेक्षण कर रही है और उनके परिणाम भी घोषित कर रही है। दिल्ली में तीन नगर निगम- उत्तरी दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी), दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) और पूर्वी दिल्ली नगर निगम (ईडीएमसी) हैं। दिल्ली में नगर निगम की 372 सीटें हैं।

Gyan Dairy

 

Share