पुडुचेरी में दो कांग्रेस विधायकों के इस्तीफे के बाद अल्पमत में आई वी नारायनसामी सरकार, जानें पूरा मामला

नई दिल्ली। केन्द्र शासित प्रदेश पुडुचेरी की कांग्रेस सरकार पर संकट के बादल छा गए हैं। पुडुचेरी में आगामी अप्रैल-मई महीने में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इससे पहले आज यानी मंगलवार को कांग्रेस विधायक ए जॉन कुमार ने इस्तीफा दे दिया। इससे पहले सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री एम कृष्ण राव ने भी इस्तीफा दे दिया था। एक महीने के अंदर कांग्रेस के चार विधायक पार्टी छोड़ चुके हैं। ऐसे में राज्य की वी नारायनसामी सरकार अल्पमत में आ गई। पुडुचेरी में कांग्रेस विधायकों की संख्या सिर्फ दस बची है।

बता दें कि इससे पहले जनवरी में दो विधायक- नामाशिवयम जिनके पास पब्लिक वर्क का मंत्रालय था और ई थिपैदन ने कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा का दामन थाम लिया था। कांग्रेस के विधायक एन धनावेलु को पिछले साल जुलाई में पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण बाहर निकाल दिया गया था।

Gyan Dairy

बता दें कि पुडुचेरी में कुल 30 विधानसभा सीटें हैं। साल 2016 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को आधी यानी 15 सीटों पर जीत मिली थी। इसके बाद कांग्रेस सरकार ने डीएमके के तीन और एक निर्दलीय विधायक का समर्थन हासिल कर लिया। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री एन रंगासामी की ऑल इंडिया एन आर कांग्रेस के पास सात सीटें हैं, जबकि एआईएडीएमके को चार सीटों पर जीत मिली थी। पुडुचेरी में बीजेपी के पास तीन विधायक हैं।

Share