कोरोनिल पर बोले रामदेव-विरोधी ताकतों की जड़ें हिली इसलिए मेरे खिलाफ FIR दर्ज कराई गई

हरिद्वार। कोरोना की दवा को​रोनिल बनाने का दावा करके घिरे योग गुरु बाबा रामदेव आज ​मीडिया के सामने आये। इस दौरान उन्होंने अपनी सफाई दी। रामदेव ने कहा कि कोरोनिल के क्लीनिकल ट्रायल का डेटा हमने आयुष मंत्रालय क भेजा, आयुष मंत्रालय के सारे अप्रूवल लिए गए। हमने सभी पैरमीटर फॉलो किए। इसके बाद भी मेरे के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गयी।

उन्होंने कहा कि दवा बनाकर मैंने कोई गुनाह नहीं किया है। उन्होंने पूछा कि क्या सिर्फ कोट टाई वाले रिसर्च करेंगे, धोती वाले नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के बारे में क्लीनिकल कंट्रोल ट्रायल का डाटा देश के सामने रखा तो तूफान सा उठ गया। उन ड्रग माफिया, मल्टीनेशनल कंपनी माफिया, भारतीय और भारतीयता विरोधी ताकतों की जड़ें हिल गईं।

बाबा रामदेव बोले ने कहा कि जिस तरह से देशद्रोही के खिलाफ मुकदमा दर्ज होते है ऐसे मुकदमे दर्ज हुए ये मानसिकता हमे कहां लेकर जाएगी हम दोनों 35 वर्षो से साथ काम कर रहे है दोनों सामान्य परिवार से आये इसलिये लोगो को मिर्ची लगती है। पिछले तीन दशकों में करोड़ो लोगो को निरोगी किया है योग सिखाया है। जब अब मंत्रलाय ने भी कहा कि क्लीनिकल ट्रायल किया गया तो लोग तीन दिन में ठीक हो गए, सब अप्रूवल भी हमने सम्मिट कर दिए अब जब सारे अप्रूवल लेकर अभी कोरोना के ऊपर ट्रायल हुआ है।

Gyan Dairy

 

Share