समाजवादी पार्टी को एक और झटका,सपा के वरिष्ठ नेता अशोक बाजपेयी ने दिया इस्तीफा

समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता MLC अशोक बाजपेई ने बुधवार को पार्टी पद से इस्तीफा दे दिया। उन्होंने विधान परिषद की सदस्यता से इस्तीफा देते वक्त पार्टी की आंतरिक कलह को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया।

बाजपाई ने कहा कि अगर पार्टी में इस तरह की आंतरिक कलह नहीं होती तो राज्य में हुए चुनाव में इस तरह की करारी हार का सामना नहीं करना पड़ता।इस्तीफा देने के बाद डॉ.अशोक बाजपेई ने कहा कि वह मुलायम सिंह यादव नेताजी की उपेक्षा से बहुत आहात थे. उनकी उपेक्षा की वजह से उन्होंने एमएलसी पद से इस्तीफा दिया है.

बाजपेई ने कहा, नेताजी मुलायम सिंह यादव की उपेक्षा की वजह से मैं बहुत ही आहत हुआ हूं और इसी वजह से पार्टी पद से इस्तीफा देने का फैसला किया है।

उधर सपा के एक और एमएलसी रामसकल गुर्जर के बारे में भी खबरें आ रही हैं कि वह भी विधानपरिषद की सदस्यता से इस्तीफा दे सकते हैं. हालांकि इसकी अभी तक पुष्टि नहीं हो सकी हैi

Gyan Dairy

हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि बाजपेईको 2014 में अंतिम समय में लोकसभा का टिकट काटने और फिर राज्यसभा का टिकट कटने का मलाल है।सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अशोक बाजपाई शीग्र ही भाजपा ज्वाइन करने वाले है.

डॉ अशोक पहले समाजवादी पार्टी के तीन एमएलसी पहले ही सपा का दामन छोड़ चुके हैं. इनमें बुक्कल नवाब, यशवंत सिंह और डॉ. सरोजनी अग्रवाल के नाम प्रमुख हैं. वहीं बसपा भी पार्टी में टूट से जूझ रही है.  पार्टी के ठाकुर जयवीर सिंह भी विधानपरिषद की सदस्यता से इस्तीफा दे चुके हैं.

Share