एंटीलिया केस: निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाझे होगा बर्खास्त, गृह विभाग ने शुरू की प्रक्रिया

मुंबई। देश के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर विस्फोटक लदी कार मिलने और कारोबारी मनसुख हिरन की हत्या के मामले में एनआईए के हत्थे चढ़े निलंबित पुलिस अधिकारी सचिन वाजे की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। महाराष्ट्र क गृह विभाग ने उनकी बर्खास्तगी की प्रक्रिया शुरू कर दी है। सूत्रों ने यह जानकारी दी।

मुंबई पुलिस की विशेष शाखा ने महाराष्ट्र के आतंकवाद रोधी दस्ते (एटीएस) को पत्र लिखकर मनसुख हिरन की मौत के मामले में दर्ज प्राथमिकी की प्रति और उनकी पत्नी का बयान की प्रति मांगी है। मनसुख हिरन की मौत के मामले में उनकी पत्नी ने सहायक निरीक्षक सचिन वाजे की भूमिका संदेह के घेरे में बताई थी। एटीएस ने मुंबई पुलिस को दस्तावेज मुहैया करा दिये हैं।

विशेष शाखा ने एनआईए से भी ऐसे ही दस्तावेज मांगे थे। सूत्रों ने कहा कि दस्तावेज प्राप्त करने के बाद विशेष शाखा ने हाल ही में संविधान के अनुच्छेद 311 के तहत सचिन वाजे को पुलिस सेवा से बर्खास्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

Gyan Dairy

एटीएस और एनआईए से प्राप्त दस्तावेजों के आधार पर विशेष शाखा वाजे को सेवा से बर्खास्त करने का एक प्रस्ताव सरकार को भेजेगी और फिर उसके अनुसार निर्णय लिया जाएगा। बता दें कि एंटीलिया केस में एनआईए अपराध खुफिया इकाई में वाजे के साथ काम करने वाले सहायक पुलिस निरीक्षक रियाजुद्दीन काजी और पूर्व पुलिसकर्मी विनायक शिंदे तथा क्रिकटे सटोरिये नरेश गोर को भी गिरफ्तार कर चुकी है। काजी को सोमवार को निलंबित कर दिया गया।

Share