वेंकैया नायडू ने फिल्मकार संजय लीला भंसाली के साथ हाथापाई को ‘बहुत ही आपत्तिजनक’ करार दिया और कहा कि कोई भी कानून अपने हाथ में नहीं ले सकता

सूचना एवं प्रसारण मंत्री एम वेंकैया नायडू ने फिल्मकार संजय लीला भंसाली के साथ हाथापाई को ‘बहुत ही आपत्तिजनक’ करार दिया और कहा कि कोई भी कानून अपने हाथ में नहीं ले सकता. नायडू ने आज कहा, संजय लीला भंसाली के साथ हाथापाई और फिल्म की शूटिंग को बाधित करना बहुत ही आपत्तिजनक है. उन्होंने कहा, कोई भी कानून अपने हाथ में नहीं ले सकता. मैंने वसुंधरा राजे जी (राजस्थान की मुख्यमंत्री) से बात की है और उनसे जरूरी कार्रवाई करने को कहा है.

फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली ने राजपूतों के एक समूह के हमले और उनकी फिल्म पद्मावती के सेट पर तोड़फोड़ के मद्देनजर यहां फिल्म की शूटिंग को रद्द कर दिया और कहा कि यह घटना ‘अनावश्यक’ थी. भंसाली के साथ बदसलूकी से नाराज फिल्म जगत के लोगों ने हमले के दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है. आमेर थाने के प्रभारी नरेंद्र कुमार ने कहा, फिल्मकार ने जयगढ़ किले में शूटिंग रोक दी है और वे उस जगह से चले गए हैं. भंसाली के प्रतिनिधि ने एक बयान जारी कर कहा कि फिल्म निर्माण दल के सदस्यों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए फिल्मकार ने शूटिंग रोकने का फैसला किया है.

Gyan Dairy

भंसाली की फिल्म ‘पद्मावती’ की शूटिंग के दौरान राजपूतों के एक समूह ने उनके साथ हाथापाई की थी और सेट पर तोड़फोड़ की थी. घटना के बाद भंसाली ने फिल्म की शूटिंग रद्द कर दी. भंसाली के साथ बदसलूकी से नाराज फिल्म जगत के लोगों ने हमले के दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है. सेट पर हंगामा करने वाले समूह का आरोप है कि भंसाली अपनी फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी और रानी पद्मावती के बारे में तथ्यों को तोड़-मरोड़कर पेश कर रहे हैं.

Share