बसवराज बोम्मई बने कर्नाटक के 23वें सीएम, येदियुरप्पा के पैर छूकर कही ये बात

बेंगलुरु। आज से कर्नाटक में बोम्मई राज का विधिवत आगाज हो गया है। कर्नाटक राजभवन में बीजेपी नेता बसवराज बोम्मई ने प्रदेश के 23वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ले ली है। लिंगायत समुदाय से आने वाले बसवराज ने शपथ ग्रहण से पहले कहा कि उन्हें पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा के अनुभव का फायदा मिलेगा। शपथ लेने के तुरंत बाद बसवराज बोम्मई ने येदियुरप्पा के पैर छूकर उनका आशीर्वाद लिया। बीएस येदियुरप्पा के करीबी बोम्मई को मुख्यमंत्री बनाकर बीजेपी ने पूर्व सीएम और लिंगायत समुदाय दोनों को ही साधने का प्रयास किया है। बोम्मई की नियुक्ति से यह माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में भी येदियुरप्पा का प्रभाव कर्नाटक की राजनीति में बना रहेगा।

लिंगायत समुदाय से आने वाले बसवराज ने शपथ ग्रहण से पहले कहा कि उन्हें पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा के अनुभव का फायदा मिलेगा

बसवराज बोम्मई मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के लिए सुबह 10:30 बजे ही पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा के साथ राजभवन पहुंच गए थे। इससे पहले उन्होंने केंद्रीय मंत्री और पर्यवेक्षक के तौर पर कर्नाटक पहुंचे धर्मेंद्र प्रधान से भी मुलाकात की। बोम्मई को मंगलवार शाम को बीजेपी हाईकमान की ओर से कर्नाटक का नया सीएम घोषित किया गया था। इससे पहले सोमवार को ही येदियुरप्पा ने पद से इस्तीफा दिया था, जिसे गवर्नर ने तत्काल स्वीकार कर लिया था। बोम्मई ने सीएम घोषित होने के बाद कहा कि वह राज्य में गरीबों के कल्याण के लिए काम करेंगे और जनहित की सरकार देंगे।

Gyan Dairy

 

Share