बिहार सरकार: कायम है CM नीतीश कुमार जलवा, बड़े बजट के विभागों पर काबिज हैं JDU के मंत्री

पटना। बिहार में भारतीय जनता पार्टी और जनता दल यूनाइटेड ने मिलकर एनडीए की सरकार बना ली है। जेडीयू, बीजेपी, हम और वीआईपी के मंत्रियों को विभाग भी आवंटित हो चुके हैं। इन चुनावों में भाजपा ने चुनाव में जदयू की तुलना में काफी बेहतर प्रदर्शन किया था। ऐसा माना जा रहा था कि बीजेपी बड़े बजट वाले कई विभागों पर अपना दावा करेगी। हांलाकि ऐसा नहीं हुआ और बड़े बजट वाले विभाग अभी भी जदयू के पास ही हैं।

विभागीय बजट के हिसाब से देखें तो जनता दल यूनाइटेड के मंत्री 1.07 लाख करोड़ रुपये के बजट वाले विभागों के मंत्री हैं। वहीं भाजपा 63.51 हजार करोड़ रुपये सालाना बजट वाले विभागों का जिम्मा संभाल रहे हैं। हालांकि दोनों दलों के पास एक समान 22-22 विभाग ही हैं।

Gyan Dairy

हालांकि पिछली बार की अपेक्षा इस बार जदयू ने अपने कोटे से बीजेपी को पांच विभाग—उद्योग, आपदा प्रबंधन, विधि, पंचायती राज व गन्ना उद्योग दिए हैं। आपदा प्रबंधन उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद संभालेंगे तो वहीं रेणु देवी पंचायती राज और उद्योग विभाग की जिम्मेदारी निभाएंगी। विधि विभाग रामसूरत राय के पास है तो गन्ना उद्योग कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह के पास है। जदयू ने अपने सहयोगी दल हम को दो विभाग सौंपे हैं।

Share