बिहार: राजद के स्थापना दिवस पर लालू यादव बोले- ‘हमरा राज जंगलराज नहीं जनराज रहा’

पटना। बिहार में लालू प्रसाद के नेतृत्व वाली राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) आज अपना 25 वां स्‍थापना दिवस मना रही है। इस मौके पर राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने कार्यकर्ताओं को वर्चुअली सम्‍बोधित करते हुए अपनी गैरमौजूदगी में पार्टी सम्‍भालने के लिए बेटे तेजस्‍वी यादव की तारीफ भी की। लालू यादव ने कहा, ‘मैं लोगों को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि हम मिट जाएंगे लेकिन झुकेंगे नहीं। वे हमारी सरकार को जंगलराज कहते हैं। हमरा राज जंगलराज नहीं जनराज रहा। चरवाहा स्कूल एक मैसेज था कि पेट के साथ शिक्षा का भी इंतजाम हो।’

लालू प्रसाद यादव ने आगे कहा कि बिहार में हमारी अनुपस्थिति में चुनाव हुआ। हम तड़पते रह गए, हमें मलाल है। तेजस्वी से बात होती रहती थी। उसने कहा कि पापा चिंता मत कीजिए। हम लोगों से निपट लेंगे। लालू ने राष्‍ट्रीय जनता दल के गठन से लेकर अभी तक के संघर्ष के बारे में विस्‍तार से अपनी बात रखते हुए कहा कि रामकृष्‍ण हेगड़े के परामर्श से पार्टी का नाम राष्‍ट्रीय जनता दल रखा गया था। पार्टी के स्‍थापना काल से लगातार संघर्ष कर रहे हैं।

Gyan Dairy

राजद सुप्रीमो ने बेरोजगारी और महंगाई को लेकर सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने कहा कि हमारे साथ जनता की ताकत है। हमारे साथ अल्पसंख्यक, दलित, पिछड़े, अति पिछड़े और गरीब हैं। कोरोना प्रलय जैसा है लेकिन उससे बढ़कर महंगाई और बेरोजगारी लोगों की कमर तोड़ रही है। लालू यादव ने कहा कि यदि हमारी सरकार में पेट्रोल, डीजल के दाम बढ़ते तो लोग हमें चलने नहीं देते। राष्‍ट्रीय जनता दल का 25 वां स्‍थापना दिवस समारोह पार्टी के पटना स्थिति कार्यालय में मनाया जा रहा है। इस कार्यक्रम में जमानत पर जेल से रिहा होने के बाद लालू यादव ने पहली बार जनता के साथ वर्चुअल संवाद किया। उन्‍होंने कहा कि मैं कार्यकर्ताओं के साथ मौजूद नहीं हूं इसका मुझे अफसोस है। रजत जयंती में सहभागी बनने के लिए मैं बिहार और देश की जनता को बधाई देता हूं।

Share