बिहार सियासत: तेजस्वी यादव बन सकते हैं अगले मुख्यमंत्री, ये है RJD का प्लान बी

पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में स्पष्ट बहुमत पाकर एनडीए सरकार बनाने की तैयारी में लगा हुआ है। वहीं संख्या बल में कमजोर साबित हुए राजद नेता तेजस्वी यादव अब जोड़-तोड़ के सहारे बिहार के सीएम बनने की कवायद कर रहे हैं। विश्वस्त सूत्रों का दावा है कि तेजस्वी यादव के नेतृत्व में गुरुवार को राजद विधायक दल की बैठक हुई। इस बैठक में महागठबंधन के सदस्य कांग्रेस व वामदलों के निर्वाचित विधायकों को भी बुलाया गया। सूत्रों के मुताबिक तेजस्वी यादव को बिहार का अगला मुख्यमंत्री बनाने के लिए राष्ट्रीय जनता दल ने अपने पूर्व सहयोगियों से संपर्क साधा है।

बिहार के चुनाव परिणाम में एनडीए को 125 सीटें तो महागठबंधन को 110 सीटें मिली हैं। 243 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिए 122 विधायक चाहिए। ऐसे में महागठबंधन को सरकार बनाने के लिए 12 और विधायकों के साथ की जरूरत है।
सूत्रों का दावा है कि राष्ट्रीय जनता दल के नेता मुकेश सहनी की वीआईपी और जीतनराम मांझी की पार्टी हम के लगातार संपर्क में है। इसके साथ ही कांग्रेस के कई दिग्गज नेता हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम से भी बात कर रहे हैं। अगर यह तीनों दल मिल जाते हैं तो महागठबंधन के नेता तेजस्वी यादव आसानी से मुख्यमंत्री की कुर्सी पर काबिज हो जाएंगे। बिहार चुनाव में एआईएमआईएम को पांच और वीआईपी व हम ने चार-चार सीटें जीती हैं। इन तीनों दलों के मिलाकर 13 विधायक हो रहे हैं। राजद के एक बड़े नेता ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि अगर वीआईपी और हम महागठबंधन के साथ आ जाएं तो उनका काफी फायदा होगा।

Gyan Dairy
Share