बिहार के नजीते: नीतीश कुमार के पांच मंत्री हार की कगार पर, जानें अपडेट

पटना। बिहार में विधानसभा चुनाव के नतीजे आना शुरू हो गए हैं। अब तक एनडीए 128 और महागठबंधन 104 सीटों पर आगे चल रहा है। अब तक की मतगणना में सीएम नीतीश कुमार की सरकार के पांच मंत्रियों की हालत पतली हो रही है। जेडीयू के नेता और नीतीश के मंत्री जयशंकर सिंह (लगभग 12 हजार वोट से पीछे), कृष्णनंदन वर्मा (13 हजार), सुरेश शर्मा (2 हजार वोट), संतोष निराला (7 हजार), रामसेवक सिंह (14 हजार) पीछे चल रहे हैं।

बिहार विधानसभा चुनाव में जेडीयू ने 115 प्रत्याशी अपने सिम्बल पर उतारे हैं। पार्टी ने इनमें से एक चौथाई से अधिक सीटों पर नए चेहरों को उतारा है। वहीं पार्टी के पुराने तमाम दिग्गज भी चुनावी मैदान में ताल ठोंक रहे हैं। कई विधायकों की सीट पर जदयू ने उनके परिवारीजन को भी आजमाया है। तो कई बड़े दावेदार टिकट नहीं मिलने से नाराज होकर बतौर बागी मैदान में कूदकर जदयू और एनडीए की परेशानी बढ़ा रहे हैं। ऐसे चार दर्जन से अधिक नेताओं पर दल ने कार्रवाई भी की है।

जेडीयू ने शालिनी मिश्रा, रंजूगीता, सुनीता सिंह चौहान, मीना कामत, शीला मंडल, वीणा भारती, शगुफ्ता अजीम, बीमा भारती, लेसी सिंह, कमला कुशवाहा, सीता देवी, माधवी सिंह, आश्मां परवीन, कुमारी मंजू वर्मा, अश्वमेध देवी, साधना सदा, पूनम देवी यादव, नूतन पासवान, सुष्मलता कुशवाहा, अंजुम आरा, मनोरमा देवी, पूर्णिमा यादव सहित 22 महिलाओं को टिकट दिया।

Gyan Dairy

इस चुनाव में जेडीयू ने ललित मंडल, जयंत राज, राजीव लोचन नारायण, सुष्मलता कुशवाहा, अंजुम आरा, प्रभुनाथ प्रसाद, नागेन्द्र चन्द्रवंशी, सुनील कुमार (ओबरा), शालिनी मिश्रा, पंकज मिश्रा, शीला मंडल, अजय कुमार चौधरी, मनोज कुमार, मो. जमाल, कमला कुशवाहा, सुनील कुमार(भोरे), राजेश्वर चौहान, माधवी सिंह, अफ्ताफ राजू, सिद्धार्थ पटेल, महेन्द्र राम, शशिकांत कुमार, साधना सदा, डा. संजीव कुमार सिंह, कौशल किशोर, कृष्ण मुरारी शरण, मीना कामत, रामविलास कामत, शगुफ्ता अजीम, सूरज प्रसाद राय, शंभू सुमन, विजय सिंह निषाद, निखिल मंडल, आसमां परवीन सहित 34 नए प्रत्याशियों को टिकट दिया।

Share