अमित शाह : कांग्रेस नेतृत्व में कमी की वजह से टूट रही है, कोई और वजह नहीं है

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और स्मृति ईरानी के गुजरात से राज्यसभा पहुंचने के बाद गुजरात बीजेपी ने एक सम्मान समारोह का आयोजन किया है. गुजरात के गांधीनगर में पार्टी नेताओं को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि मैं अपनी पूरी क्षमता से विकास के लिए काम करने का प्रयास किया है. मुख्यमंत्री विजय रूपानी और उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल इस यात्रा को आगे बढ़ाएंगे. राज्य में कानून-व्यवस्था बेहतर है. उन्होंने राज्यसभा में एक सीट की हार पर कहा कि अगर दिसंबर में होने वाले चुनाव में पार्टी 150 सीटें जीतती है तो गुजरात की तीनों राज्यसभा सीटों पर पार्टी का कब्जा होगा. उन्होंने कहा कि हम इस बार भी तीनों सीटें जीत सकते थे.

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए अमित शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार ने लोकसभा में ओबीसी कमीशन को संवैधानिक दर्जा देने का प्रस्ताव पास किया लेकिन कांग्रेस ने राज्यसभा में इसमें अड़चन लगा दी, क्यों?

शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने आदर्श प्रस्तुत किया है. उन्होंने हर राज्य और समाज के हर वर्ग के विकास का संकल्प लिया है. राज्य के सभी समुदायों के लिए विकास कार्य कराए गए हैं. यही वजह है कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में पूरे देश से बहुमत मिला और मजबूत सरकार बनी. कांग्रेस नेतृत्व में कमी की वजह से टूट रही है. कोई और वजह नहीं है.

बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह के पार्टी अध्‍यक्ष के रूप में बुधवार को तीन साल पूरे हो गए हैं. यह मौका इसलिए भी अहम है क्‍योंकि इसी समय वह गुजरात से पहली बार राज्‍यसभा पहुंचे हैं. दूसरी अहम बात यह है कि अभी दो सप्‍ताह पहले ही बिहार में भी नीतीश कुमार के साथ गठबंधन कर सत्‍ता में पहुंची है.

अमित शाह ने कहा कि वह गुजरात में बीजेपी को अजेय संगठन मानते हैं क्योंकि पार्टी कार्यकर्ताओं ने सिद्धांतों का पालन किया है.

Gyan Dairy

राजनीतिक विश्‍लेषक इस वक्‍त बीजेपी के दौर को उसका ‘गोल्‍डन पीरियड’ कह रहे हैं हालांकि अमित शाह ऐसा नहीं मानते.

उनके मुताबिक अभी पार्टी को बहुत आगे जाना है और उसका सर्वश्रेष्‍ठ समय आना अभी बाकी है. वह उसी लक्ष्‍य के साथ आगे भी बढ़ रहे हैं.

 

Share