UA-128663252-1

बॉलीवुड की बदनामी: खान तिकड़ी सहित 38 प्रोडक्शन हाउस पहुंचे दिल्ली हाईकोर्ट, न्यूज चैनलों पर मुकदमा

नई दिल्ली। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत के बाद ड्रग केस में बॉलीवुड के दिग्गजों का नाम सामने आने पर फिल्म निर्माताओं और संगठनों ने कुछ समाचार चैनलों पर भारतीय फिल्म उद्योग के प्रति अपमानजनक रिपोर्टिंग करने का आरोप लगाया है। सोमवार को समाचार चैनल रिपब्लिक टीवी और टाइम्स नाउ के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। फिल्म निर्माताओं ने इन दोनों चैनलों को फिल्म उद्योग के प्रति अपमानजनक टिप्पणियां प्रकाशित करने से रोकने की मांग की है।

हाईकोर्ट अदालत का रुख करने वालों में दिग्गज अभिनेता शाहरुख खान, सलमान खान, आमिर खान, करन जौहर और रोहित शेट्टी जैसे दिग्गजों समेत 38 प्रोडक्शन हाउस का नाम शामिल है। इसके अलावा फिल्म एसोसिएशनों में दि प्रोड्यूसर गिल्ड ऑफ इंडिया, दि सिने एंड टीवी आर्टिस्ट्स एसोसिएशन, दि फिल्म एंड टीवी प्रोड्यूसर्स काउंसिल और स्क्रीन राइटर्स एसोसिएशन का नाम शामिल है। बता दें कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही भारतीय फिल्म उद्योग के कई कलाकार ड्रग्स और अन्य मामलों में निशाने पर लिए जा रहे हैं।
फिल्म निर्माताओं और बॉलीवुड संगठनों की ओर से दायर की गई याचिका में उद्योग से जुड़े व्यक्तियों की गोपनीयता के अधिकार के साथ हस्तक्षेप करने से रोकने की भी मांग की है। उन्होंने रिपब्लिक टीवी, इसके एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी, रिपोर्टर प्रदीप भंडारी, टाइम्स नाउ, इसके एडिटर इन चीफ राहुल शिवशंकर, ग्रुप एडिटर नविका कुमार और अज्ञात प्रतिवादियों के साथ विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भी बॉलीवुड के खिलाफ की जा रही अपमानजनक और आधारहीन टिप्पणियों पर रोक लगाने की मांग की है।

Gyan Dairy

डीएसके लीगल फर्म की ओर से दायर याचिका में कहा गया है कि ये चैनल बॉलीवुड के लिए बेहद अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल कर रहे थे। याचिका में कहा गया है कि इन समाचार चैनलों ने बॉलीवुड को गंदगी से भरा बताया और इस तरह की बातें कहीं कि बॉलीवुड में फैली गंदगी को साफ करने की जरूरत है, अरब के सभी इत्र भी यहां फैली गंदगी की बदबू को दूर नहीं कर सकते है, यह देश का सबसे गंदा उद्योग हैं और एलएसडी और कोकेन बॉलीवुड में भरा हुआ है।

Share