भारतीय छात्रों मिल रही मदद पर भड़के कनाडा के लोग, सरकार के खिलाफ प्रदर्शन

नई दिल्ली। कनाडा की सरकार विदेशी छात्रों को हर महीने 2,000 डॉलर की सहायता कर रही है। सरकार के फैसले से कनाडा के स्थानीय छात्रों में काफी नाराजगी है। दरअसल, सरकार स्थानीय छात्रों को केवल 1,250 डॉलर ही दे रही है। बता दें कि कनाडा में 642,480 विदेशी छात्र पढ़ रहे हैं, जिनमें अकेले भारतीय छात्रों की संख्या 219,855 है। भारतीय छात्रों को तरजीह देने पर कनाडा के स्थानीय समुदाय में नाराजगी दिखाई दे रही है।

दरअसल, कनाडा में भारतीय छात्रों को सप्ताह में 20 घंटे काम करने की अनुमति दी जाती है। इसलिए स्थानीय समुदाय के कई लोग रेडियो और टीवी टॉक शो में उनके खिलाफ स्थानीय नौकरियों पर कब्जा जमाने का आरोप लगाकर नाराजगी व्यक्त कर रहे हैं।

प्रत्येक विदेशी छात्र को 2,000 डॉलर की मासिक सहायता दी जा रही है और साथ ही उन्हें अपने काम से कमाई करने की भी अनुमति दी जा रही है। देओल ने कहा कि कोरोना ने तो विदेशी छात्रों के लिए एक प्रकार का बोनस दे दिया है।

Gyan Dairy

उन्होंने कहा कि सामान्य समय में भले ही उन्हें 14 डॉलर प्रति घंटे के हिसाब से अनिवार्य न्यूनतम वेतन का भुगतान किया जाता है और कोई भी विदेशी छात्र प्रति माह 1100 डॉलर से अधिक नहीं कमा सकता है, लेकिन अब वे सरकारी सहायता के साथ प्रति माह 3,000 डॉलर से भी अधिक कमा सकते हैं।

Share