UA-128663252-1

सीबीएसई: बची परीक्षाओं के पेपर अपने स्कूलों में देंगे छात्र, गृह मंत्रालय ने दी छूट

नई दिल्ली। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कहा है कि सीबीएसई 10वीं 12वीं की शेष परीक्षाएं बाहरी परीक्षा केंद्रों की बजाय छात्रों के अपने ही स्कूलों में आयोजित होंगी। यह जानकारी मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने एक चैनल से बातचीत के दौरान दी। उन्होंने यह भी कहा कि मंत्रालय की योजना जुलाई अंत तक रिजल्ट जारी करने की है। सीबीएसई 10वीं 12वीं के जो पेपर हो चुके हैं उनकी उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन शुरू हो चुका है। वहीं केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने बोर्ड परीक्षाओं को लॉकडाउन में छूट देने का निर्णय लिया है।

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के एक अधिकारी ने शेष परीक्षाओं के आयोजन को लेकर कहा, ‘छात्रों को बाहरी परीक्षा केंद्रों पर नहीं बल्कि अपने स्कूल में ही परीक्षा देनी होगी। परीक्षा के लिए छात्रों को कम से कम यात्रा करनी पड़े, इसके मद्देनजर ही यह फैसला लिया गया है। सोशल डिस्टेंसिंग के साथ परीक्षा का आयोजन करना छात्र के स्कूल की जिम्मेदारी होगी। छात्रों को भी अपना मास्क और सेनिटाइजर लेकर अपने स्कूल पहुंचना होगा।

आमतौर पर सीबीएसई पारदर्शिता बनाए रखने के लिए बोर्ड परीक्षाओं का आयोजन छात्रों के अपने स्कूलों में नहीं, बल्कि अन्य स्कूलों में करता है। बोर्ड स्वतंत्र परीक्षकों से परीक्षा प्रक्रिया की निगरानी करवाता है। परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच आयोजित होंगी। सीबीएसई ने डेटशीट जारी करने के साथ यह भी कहा है कि परिजन सुनिश्चित करें कि उनका बच्चा बीमार न हो। अभ्यर्थियों को सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा। इसके अलावा विद्यार्थियों को परीक्षा केंद्र पर मास्क पहनकर व अपना सैनेटाइजर लेकर आना होगा।

Gyan Dairy

बोर्ड परीक्षाओं को लॉकडाउन में छूट

बड़ी संख्या में छात्रों की शैक्षणिक रुचि को ध्यान में रखते हुए मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग आदि कुछ शर्तों के साथ गृह मंत्री अमित शाह ने 10वीं और 12वीं कक्षाओं की परीक्षा के लिए लॉकडाउन में छूट देने का निर्णय लिया है।

Share