केन्द्र सरकार जल्द ही कर्मचारियों और पेंशनर्स के महंगाई भत्ते में करती है इजाफा

नई दिल्ली। केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने कोरोना संकट के ​चलते फैसला लिया था कि केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनर्स के महंगाई भत्ते (DA) में इस साल कोई इजाफा नहीं होगा। अगले साल जुलाई में महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की उम्मीद है। आगामी वर्ष जुलाई में यह चार फीसदी बढ़ सकता है। हालांकि इस पर कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है।

महंगाई भत्ता चार फीसदी की दर से बढ़ाया जाता है, तो इससे सीधे तौर पर करीब 50 लाख केंद्रीय कर्मचारियों और 61 लाख पेंशनर्स को फायदा होगा। मौजूदा समय में सरकार ने कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर जून 2021 तक के लिए भत्ते में वृद्धि को फ्रीज किया हुआ है। कर्मचारियों को पिछली दर के हिसाब से 17 फीसदी डीए का भुगतान किया जा रहा है। इसका मतलब यह भी है कि केंद्र सरकार के कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी में कुछ समय लग सकता है।

Gyan Dairy

मार्च में सरकार ने केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों के डीए में चार फीसदी की वृद्धि की थी। हालांकि, अप्रैल में सरकार ने महामारी का हवाला देते हुए इसे जून 2021 से लागू करने का फैसला किया था। इससे पहले खबर आई थी कि सरकार दिवाली से पहले महंगाई भत्ते (DA) में इजाफा कर सकती है और आधार वर्ष को 2016 कर सकती है। ऐसा करने पर केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में सीधे तौर पर बढ़ोतरी होती, क्योंकि उनका महंगाई भत्ता CPI-IW की गणना के आधार पर निर्भर है।

Share