भारत के खिलाफ हिंद महासागर में पानी के नीचे साजिश रच रहा चीन, जानें खास बातें

नई दिल्ली। हमारा पड़ोसी देश चीन अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। चीन ने हिंद महासागर में चीन ने अंडर वॉटर ड्रोन्स का बड़ा बेड़ा तैनात किया है। यह अंडर वाटर ड्रोन महीनों तक काम कर सकते हैं और नौसेना को खुफिया जानकारी पहुंचा सकते हैं। इन वॉटर ड्रोन का नाम सी विंग हेयी ग्लाइडर है। रक्षा विश्लेषक एचई सटन ने यह दावा किया है।

प्रतिष्ठित फोर्ब्स मैगजीन के लिए लिखते हुए सटन ने कहा कि ये समुद्री ग्लाइडर्स जिसे चीनी एन मस्से को तैनात कर रहे हैं एक प्रकार का अनक्रीडेड अंडरवॉटर व्हीकल है। इसने फरवरी तक 3,400 से अधिक ऑब्सर्वेशन किए थे।

Gyan Dairy

सरकारी सत्रों का हवाला देते हुए सटन ने कहा कि ये ग्लाइडर्स ठीक उसी तरह के हैं, जिसे अमेरिकी नेवी ने तैनात किया था और साल 2016 में बीजिंग द्वारा सीज कर लिया गया था। सटन ने लिखा कि यह काफी आश्चर्य की बात है कि चीन अब हिंद महासागर में इस प्रकार के यूयूवी एन मास्क को तैनात कर रहा है। चीन ने आर्कटिक में एक आइस ब्रेकर में भी सी विंग को तैनात किया है। डिफेंस एक्सपर्ट के अनुसार पिछले साल दिसंबर की रिपोर्ट से पता चलता है कि हिंद महासागर के मिशन में 14 को तैनात किया गया था लेकिन सिर्फ 12 का ही इस्तेमाल किया जा सका।

Share