महाराष्ट्र में कोरोना: उद्धव सरकार का निर्देश, निजी दफ्तरों में बुलाया जाए सिर्फ 50% स्टाफ, नो मास्क नो-एंट्री

मुंबई। देश के कई राज्यों में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। इस क्रम में पंजाब, महाराष्ट्र और गुजरात के जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने स्कूल-कॉलेजों को बंद कर दिया है। सरकार ने शुक्रवार को नया आदेश जारी करके राज्य में स्थित निजी दफ्तरों को भी 50 फीसदी कर्मचारी बुलाने का आदेश दिया है। निजी कंपनियों को कहा गया है कि वे एक दिन में अपने 50 फीसदी स्टाफ को ही ऑफिस बुलाएं। इसके साथ ही फिल्म थिएटर और ऑडिटोरियम में भी 50 फीसदी लोग बुलाए जाएं। उद्धव सरकार ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि मास्क लगाए बिना एंट्री नहीं मिलेगी।

महाराष्ट्र शासन के मुख्य सचिव सीताराम कुंटे ने आदेश जारी करके कहा कि किसी थिएटर या ऑडिटोरियम में यदि नाक से नीचे मास्क हुआ तो एंट्री नहीं मिलेगी। हर जगह सैनिटाइजर की व्यवस्था होनी चाहिए। हर सार्वजनिक इमारत में गेट पर ही तापमान मापने की व्यवस्था भी रहेगी। निजी दफ्तरों में 50 फीसदी कर्मचारियों को ही बुलाने का आदेश दिया गया है। यह आदेश जरूरी सेवाओं और हेल्थ सेक्टर से जुड़े संस्थानों पर लागू नहीं होगा। इसके साथ ही सरकारी दफ्तरों के मामले में विभागों के प्रमुखों को अधिकार दिया गया है कि वे कर्मचारियों की उपस्थिति के बारे में फैसला लें।

Gyan Dairy
Share