सावधन हो जाएं भ्रष्ट कर्मचारी! मोदी सरकार उठाने जा रही है भ्रष्टाचारियों के लिए यह कदम, सूची हो रही तैयार

नई दिल्ली। भ्रष्टाचार के खिलाफ मोदी सरकार बड़ा मुहिम शुरू करने जा रही है। इसकी शुरूआत अब भ्रष्ट कर्मचारियों से होगी। मोदी सरकार भ्रष्ट कर्मचारियों की सूची तैयार करा रही है, जिनके खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप पाए जायेंगे उनके खिलाफ सरकार कार्रवाई करेगी। मोदी सरकार के इस कदम से हड़कंप मचा हुआ है।

इसके साथ ही मोदी सरकार भ्रष्ट और अयोग्य कर्मचारियों को रिटायर करने पर भी जोर दे रही है। केंद्र की मोदी सरकार सरकारी कर्मचारियों के रिकॉर्ड की जांच करने वाली है। इसके लिए सरकार ने दिशा-निर्देश भी दे दिए हैं। इसके तहत अक्षमता और भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच की जाएगी।

वहीं जो लोग भ्रष्ट, अयोग्य पाए जाते हैं, उन्हें सेवानिवृत्त होने के लिए कहा जाएगा। इसको लेकर एक रजिस्टर भी तैयार करने के लिए कहा गया है। केंद्र सरकार ने अपने दिशा निर्देश में कहा कि सरकारी सेवा में 30 साल पूरे कर चुके 50 से 55 वर्ष की उम्र के कर्मचारियों की सेवा रिकॉर्ड की जांच की जाए। ऐसे लोगों के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले पाए जाते हैं तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही उनको रिटायर भी किया जा सकता है।

Gyan Dairy

 

Share