blog

पहले दलित महिला पर बैल चोरी का आरोप लगाया फिर निर्वस्त्र किया और सरेआम 30 लोगों ने…

Spread the love

देश में जबसे बीजेपी की सरकार बनी है दलितों और महिलाओं को सरेआम बेइज्जत किया जा रहा है। उन्हें मारा जा रहा है पीटा जा रहा है। ऐसा ही एक मामला भाजपा शासित राज्य महाराष्ट्र से सामने आया है। महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले में बैलों का एक जोड़ा चुराने की कोशिश के आरोप में 50 वर्षीय दलित महिला को निर्वस्त्र करके पीटने का मामला सामने आया है।

पुलिस ने बताया कि दो जून की यह घटना है जो बुलढाणा जिले के ढाड़ थानांतर्गत रईखेड़ मयांबा गांव घटी है। पुलिस के अनुसार गांव के रहने वाले सखाराम उगाले ने महिला और उसके बेटे पर उसकी गौशाला से बैलों का एक जोड़ा चुराने की कोशिश करने का आरोप लगाया। उसने वहां कुछ और लोगों को बुलाया और करीब 30 लोगों की भीड़ ने महिला और उसके बेटे की कथित तौर पर डंडों से पिटाई की।

इस घटना के सिलसिले में पुलिस ने केस दर्ज कर विभिन्न धाराओं और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निरोधक) अधिनियम के तहत 23 लोगों को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया कि उन्होंने महिला को निर्वस्त्र भी कर दिया। मामले की जांच एसडीपीओ बी बी महामुनि कर रहे हैं। एसडीपीओ ने बताया कि महिला को अस्पताल ले जाने के बाद यह मामला सामने आया। फिलहाल, पीडि़त की शिकायत और मेडिकल रिपोर्ट के आधार केस दर्ज किया गया।

उन्होंने कहा कि साथ ही महिला के खिलाफ चोरी की कोशिश का मामला भी दर्ज किया गया है और मामले की जांच की जा रही है। पुलिस ने अब तक 23 लोगों को गिरफ्तार किया है।

You might also like