रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर : ‘पाकिस्तान कर रहा कैमिकल हथियार का इस्तेमाल

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रीकर ने सेना और सैन्य वैज्ञानिकों को आगाह करते हुए कहा कि हमें न्युक्लिर, बायोलोजिकल और कैमिकल हमलों के लिए तैयार रहना होगा. पाकिस्तान की तरफ इशारा करते हुए पर्रीकर ने कहा कि हाल ही में अफगानिस्तान से ऐसी तस्वीरें सामने आई हैं जिन्हें देखकर लगता है कि वहां कैमिकल या फिर बयोलोजिकल हथियारों का इस्तेमाल हुआ है. हालांकि उन्होनें ये जरुर कहा कि इन तस्वीरों की सत्यता की प्रमाणकिता होना अभी बाकी है.

एएनआई के ट्वीट के मुताबिक डीआरडीओ (DRDO) के एक कार्यक्रम में रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा, ‘अफगानिस्तान और उत्तरी हिस्सों से कई ऐसी रिपोर्ट आ रही हैं, जहां मैंने तस्वीरों में देखा कि स्थानीय लोग शरीर पर चकत्ते या किसी तरह के केमिकल वेपंस से प्रभावित नजर आते हैं.’ रक्षामंत्री के मुताबिक, तस्वीरें विचलित करने वाली थीं.

डीआरडीओ ने सैनिकों के लिए एनबीसी मेडिकल मैनेजमेंट किट भी तैयार की है. न्यूक्लिर, बायोलोजिकल और कैमिकल हमले के दौरान सैनिक इन दवाईयों और किट को इस्तेमाल कर सकते हैं और इन हमलों का उनपर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. अगर पड़ता भी है तो इस किट में मौजूद दवाईयों और इंजेक्शन से वे घातक रेडियोधर्मी रेडिएशन से अपना बचाव कर सकते हैं.

Gyan Dairy

गौरतलब है कि पाकिस्तान से भारत को हमेशा खतरा बना रहा है. अभी तक तीन बार भारत की जमीं पर हमला कर चुका है. इसलिए रासायनिक हथियारों के प्रयोग का संशय बना रहेगा और ऐसे में किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए भारत को तैयारी करनी होगी.

Share