महाराष्ट्र में बकरीद पर कुर्बानी से पहले BMC को बताना होगा अनिवार्य, इसके लिए जल्द लांच होगा ऐप

बकरा ईद नजदीक आ रही है ऐसे में मुंबई में अगर बकरे की कुर्बानी देनी है तो इसकी सूचना पहले बीएमसी में देना जरूरी है. इसके लिए मुंबई बीएमसी जल्द ही एक बकरा ऐप बनाने जा रही है. मुंबई देवनार कत्लखाने के प्रबंधक डॉक्टर योगेश शेट्टे ने बताया कि 21 फररवरी तक ऐप तैयार हो जायेगा. बकरीद तीन दिन तक चलती है, इसलिए कुर्बानी देने वालों को उस ऐप में अपना नाम पता और पैन कार्ड, आधार कार्ड और दूसरे पहचान पत्र का नंबर के साथ क़ुर्बानी करने की तारीख डालना होगा. उसके बाद खुद ब खुद उन्हें बकरे की क़ुर्बानी की इजाजत मिल जाएगी.

डॉक्टर योगेश शेट्टे के मुताबिक इस ऐप में जानकरी भरने से बीएमसी के लिए सफाई करने में आसानी होगी. चूंकि उन्हें पता होगा कि कब कहां-कहां कुर्बानी होने वाली है तो उसी हिसाब से वो बीएमसी कर्मचारी वहां जाकर तुरंत सफाई कर पाएंगे इससे दूसरों को कोई परेशानी नहीं होगी. बीएमसी इसे एक सुविधा बता रही है, जबकि कुछ लोगों का मानना है कि इससे  बेवजह एक नया विवाद पैदा होगा, लेकिन ये भी सच है कि अभी इसे अनिवार्य नहीं बनाया गया.

Gyan Dairy

बकरीद के दौरान में मुंबई के देवनार कत्लखाने में तकरीबन ढाई लाख बकरे आते हैं, जिन्हें लोग खरीदकर कुर्बानी के लिए अपने घर ले जाते हैं. पिछले साल एक हॉउसिंग सोसायटी में विवाद के चलते मामला बॉम्बे हाई कोर्ट चला गया था, तब अदालत ने बीएमसी के पास सभी कुरबानी की जानकरी ना होने पर सवाल किया था. इसके पहले बीएमसी कुर्बानी करने वालों को सिर्फ एक रशीद देती थी, लेकिन उसमे पूरी जानकरी नहीं रहती थी.

Share