फारूक अब्दुल्ला बोले- हमें पाकिस्तान से कोई मतलब नहीं, हम सिर्फ अपने मुल्क की बात करेंगे

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद पहली बार पीएम नरेंद्र मोदी ने घाटी के नेताओं की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में शामिल होने के लिए नेशनल कांफ्रेंस के मुखिया और पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला भी पहुंचे थे। फारूक अब्दुल्ला ने गुपकार गठबंधन की सहयोगी व पीडीपी चीफ महबूबा मुफ्ती के उस बयान से किनारा कर लिया, जिसमें महबूबा ने केन्द्र सरकार से पाकिस्तान से बात करने की सलाह दी थी।

फारूक अब्दुल्ला ने पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती के बयान पर कहा कि हमें पाकिस्तान के बारे में बात नहीं करनी है। हम सिर्फ अपने देश की बात करेंगे। फारूक ने साफ कहा कि हमें सिर्फ अपने मुल्क से ही मतलब है। इसीलिए हम अपने मुल्क के प्रधानमंत्री से बात करने आए हैं। फारूक अब्दुल्ला ने पीएम मोदी द्वारा मीटिंग बुलाने का भी स्वागत किया। अब्दुल्ला ने कहा कि यह देर से आने, लेकिन दुरुस्त आने जैसा है। अब्दुल्ला ने कहा कि हम उम्मीद करेंगे कि प्रधानमंत्री और गृह मंत्री हम लोगों की बात को शांति से सुनें और कोई ऐसा हल निकालें, जिससे राज्य में अमन कायम हो।

Gyan Dairy

बता दें किे चंद दिनों पहले गुपकार गठबंधन की बैठक के बाद महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि कश्मीर के मसले पर केंद्र सरकार को पाकिस्तान से भी बात करनी चाहिए। महबूबा ने कहा था, ‘यदि सरकार अफगानिस्तान में तालिबान से बात कर सकती है तो फिर कश्मीर के मसले पर पाकिस्तान से बात क्यों नहीं हो सकती।’

Share