LJP पर कब्जे की लड़ाई: अब चिराग पासवान ने पांच बागी सांसदों को पार्टी से किया निष्कासित

नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) पर कब्जे के लिए भतीजे चिराग के खिलाफ बगावत करने वाले सांसद पशुपति कुमार पारस गुट ने चिराग को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटा दिया। इसके बाद चिराग पासवान ने बागी सांसदों को पार्टी से बाहर निकाल दिया। इसके साथ ही राम बिलास पासवान की लोजपा दो धड़े में बंट चुकी है। लोजपा संसदीय दल के नये नेता पशुपति कुमार पारस ने मंगलवार को पार्टी की राष्ट्रीय कार्य समिति की आपात बैठक कर चिराग पासवान को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से बेदखल कर दिया। इसके कुछ देर बाद ही चिराग ने पारस समेत पार्टी के पांच सांसदों को बाहर करने का ऐलान कर दिया।

चाचा पशुपति कुमार पारस ने पार्टी के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं पूर्व सांसद सूरज सिंह उर्फ सूरज भान सिंह को लोजपा का राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त कर दिया। पारस ने बताया कि लोजपा की राष्ट्रीय कार्य समिति की बैठक में सर्वसम्मति से यह फैसला लिया गया कि पार्टी के संविधान के तहत ‘एक व्यक्ति, एक पद’ का प्रविधान सभी के लिए है। इसीलिए संविधान के आलोक में सर्वसम्मति से चिराग पासवान को राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से हटाने का फैसला लिया गया। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष ही चुनाव अधिकारी रहेंगे। कार्यसमिति ने कार्यकारी अध्यक्ष सूरज भान सिंह अधिकृत किया कि पांच दिनों के अंदर राष्ट्रीय परिषद की बैठक बुलाकर राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव संपन्न कराएं।

Gyan Dairy
Share