आम बजट: देश में खुलेंगे 100 से अधिक सैनिक स्कूल, लेह को केंद्रीय विश्वविद्यालय की सौगात

नई दिल्ली। वित्त् मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को बजट भाषण में देश में 100 से ज्यादा नए सैनिक स्कूल खोलने का ऐलान किया। उनके अनुसार, एनजीओ के साथ मिलकर सैनिक स्कूलों की संख्या बढ़ाई जाएगी। साथ ही आदिवासी इलाकों में 758 एकलव्य स्कूल खोले जाएंगे। अनुसूचित जाति के बच्चों के लिए केंद्रीय सहायता बढ़ाई जाएगी। इससे 4 करोड़ से ज्यादा दलित छात्रों को लाभ होगा। 2021-2022 के बजट में लेह लद्दाख के युवाओं को भी तोहफा मिला। उन्होंने लेह में केंद्रीय विश्वविद्यालय खोलने की घोषणा की। इससे लेह लद्दाख के युवाओं को फायदा होगा। युवाओं के कौशल विकास को लेकर वित्त मंत्री ने कहा,’डिप्लोमा धारकों को इंजीनियरिंग की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसके लिए अतिरिक्त धनराशि जारी की जाएगी। स्किल, इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग के लिए यूएई व जापान से बातचीत चल रही है। 17 नए पब्लिक हेल्थ यूनिट को चालू किया जाएगा।

32 एयरपोर्ट पर भी ये बनेंगे। नेशनल इंस्टीट्यूशन ऑफ वर्ल्ड हेल्थ बनेगा। 9 बायो लैब बनेगा। चार नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी बनेगा। शहरी स्वच्छ भारत मिशन पर 2.0 पर एक लाख 41 हजार करोड़ रुपए खर्च होंगे। पुराने वाहनों के लिए आएगी स्क्रैप पॉलिसी। हर वाहन के लिए लेना होगा फिटनेस सर्टिफिकेट। वॉलेंट्री स्क्रैप पॉलिसी जल्द होगी लॉन्च। सरकारी बस सेवाओं के लिए 18 हजार करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है। बंगाल, असम, तमिलनाडु में रोड प्रोजेक्ट्स से जुड़े बड़े ऐलान। अगले साल तैयार होंगे 8,500 किलोमीटर के रोड प्रोजेक्ट।कोरोना महामारी से निपटने के लिये आत्मनिर्भर पैकेज के तहत 27.1 लाख करोड़ रुपये की घोषणा।

Gyan Dairy

बीमा क्षेत्र में एफडीआई सीमा 49 प्रतिशत से बढ़ाकर 74 प्रतिशत की गयी। सरकार 20,000 करोड़ रुपये की पूंजी के साथ विकास वित्त संस्थान गठित करने के लिये विधेयक लाएगी। पीएम आत्मनिर्भर स्वास्थ्य योजना शुरू होगी। इस पर 61 हजार करोड़ रुपए अगले 6 साल में खर्च होंगे। प्राइमरी से लेकर उच्च स्तर तक की स्वास्थ्य सेवाओं पर खर्च किया जाएगा। नई बीमारियों पर फोकस होगा। नैशनल हेल्थ मिशन से अलग होगा। 75 हजार ग्रामीण हेल्थ सेंटर, सभी जिलों में जांच केंद्र, क्रिटिकल केयर हॉस्पीटल ब्लॉक 602 जिलों में , नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल, इंटिग्रेडेट हेल्थ इनफो पोर्टल को मजबूत बनाया जाएगा।

Share