पूर्व गृहमंत्री और कांग्रेस नेता सुशील शिंदे बोले- पार्टी अपनी विचारधारा की संस्कृति खोती जा रही

नई दिल्ली। कांग्रेस में इन दिनों बगावत का मौसम चल रहा है। ज्योतिरादित्य सिंधिया, जितिन प्रसाद और सचिन पायलट की बगावत के बाद अब पूर्व गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे भी कांग्रेस हाईकमान से खफा हो गए हैं। शिंदे ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अपनी विचारधारा की संस्कृति खोती जा रही है। सुशील शिंदे का बयान उस समय आया है जब पार्टी में चौतरफा बगावत की खबरें आ रही हैं।

जानकारी के मुताबिक बीते दिनों महाराष्ट्र के पुराने कांग्रेस नेताओं को सम्मानित करने के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में सुशील कुमार शिंदे भी मौजूद थे। इस मौके पर सुशील कुमार शिंदे ने कहा कि एक समय कांग्रेस पार्टी में मेरे शब्दों का कुछ मूल्य होता था, लेकिन मुझे नहीं पता कि यह अब है या नहीं। शिंदे ने आगे कहा कि कांग्रेस अपनी विचारधारा की संस्कृति को भी खोती जा रही है। ‘एक समय था जब कांग्रेस ‘चिंतन शिविर आयोजित करती थी, इस शिविर में पार्टी के प्रदर्शन और नेताओं की लोकप्रियता और जनता में उनकी पकड़ को लेकर मंथन किया जाता था।

शिंदे ने कहा कि अब यह समझना बहुत मुश्किल है कि पार्टी कहां है, कांग्रेस द्वारा अपनाई गई कई नीतियां गलत हो सकती हैं, लेकिन सुधार के लिए कांग्रेस में कार्यशालाएं आयोजित करने की संस्कृति थी।’ इस मामले में शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा कि सुशील शिंदे ने कुछ कहा है, तो पार्टी को इस मुद्दे पर चर्चा करनी चाहिए, क्योंकि वह कांग्रेस के सबसे वरिष्ठ नेताओं में से एक हैं और उन्होंने पार्टी के लिए बहुत कुछ किया है।

Gyan Dairy

 

Share