रामनाथ कोविंद के खिलाफ पूर्व लोकसभा अध्‍यक्ष मीरा कुमार होंगी विपक्ष की साझा उम्‍मीदवार

17 जुलाई 2017 को होने वाले राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए विपक्ष ने पूर्व लोकसभा अध्‍यक्ष मीरा कुमार को अपना साझा उम्‍मीदवार बनाया है. इस तरह विपक्ष ने एनडीए के उम्‍मीदवार रामनाथ कोविंद के सामने महिला एवं दलित उम्‍मीदवार को खड़ा कर अपनी चुनौती पेश की है

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने महात्मा गांधी के पौत्र गोपालकृष्ण गांधी तथा बी आर अंबेडकर के पौत्र प्रकाश अंबेडकर के नामों का प्रस्ताव किया. 72 वर्षीय मीरा कुमार ने बुधवार की देर शाम सोनिया गांधी से मुलाकात की थी. मुख्‍य रूप से कांग्रेस और वाम दल चाहते थे कि राष्‍ट्रपति चुनाव एकतरफा ना हो इसलिए वो एक ऐसा उम्‍मीदवार पेश करना चाहते थे जिसे सभी विपक्षी पार्टियां अपना समर्थन दें. 16 राजनीतिक दलों ने संसद भवन में हुई विपक्ष की बैठक में हिस्‍सा लिया जहां मीरा कुमार के नाम पर मुहर लगाई गई

पहले कहा जा रहा था कि एनसीपी भी नीतीश कुमार की तरह ही एनडीए के उम्‍मीदवार का समर्थन करने का मन बना रही है जिसके बाद कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने अपनी पार्टी के नेताओं गुलाम नबी आज़ाद तथा अहमद पटेल को पवार से मुलाकात करने के लिए भेजा. वाम नेता सीताराम येचुरी, जो विपक्ष की ओर से प्रत्याशी खड़ा किए जाने पर ज़ोर दे रहे हैं उन्‍होंने ने भी शरद पवार से मुलाकात की

Gyan Dairy

इसके बाद पवार भी विपक्ष की बैठक में शामिल हुए. बैठक में डीएमके से कनिमोई, केरल कांग्रेस से जोस मनी, जेएमएम से हेमंत सोरेन और संजीव कुमार, आरएसरपी से प्रेमचंद्रन, एआईडीयूएफ के प्रतिनिधि (बदरूद्दीन अज़मल के बेटे), जेडीएस दानिश अली, मुस्लिम लीग- इस्माइल और राजद से लालू प्रसाद यादव भी शामिल हुए.

Share