वेंटिलेटर सपोर्ट पर पूर्व President प्रणब मुखर्जी, सफलतापूर्वक हुई ब्रेन सर्जरी

सेना के रिसर्च और रेफरल (आर एंड आर) अस्पताल में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी (Former President Pranab Mukherjee) के मस्तिष्क की सर्जरी (Brain Surgery) हुई। मस्तिष्क में बने खून के थक्के को हटाने के लिए यह सर्जरी की गयी। अस्पताल के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस वक्त आर्मी अस्पताल में उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया है। उनकी हालत नाजुक बनी हुई है। सर्जरी से पहले प्रणब मुखर्जी की कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आई थी।    

मुखर्जी ने सोमवार की दोपहर को ट्वीट कर कहा, “अस्पताल में एक अलग जांच के लिए जाने के दौरान आज मेरा कोविड-19 टेस्ट पॉजिटिव आया है। मैं उन लोगों से अनुरोध करता हूं कि जो पिछले हफ्ते में जो भी मेरे संपर्क में आए हैं वे खुद को आइसोलेट कर लें और कोविड-19 का टेस्ट करवा लें। अधिकारियों ने बताया कि पूर्व राष्ट्रपति की सफलतापूर्वक ब्रेन सर्जरी हुई है।”

साल 2012 से लेकर 2017 तक राष्ट्रपति रहे प्रणब मुखर्जी ने कोविड-19 केस बढ़ने के बाद लोगों के साथ मिलना-जुलना कम कर दिया था। उनके राजाजी मार्ग स्थित आवास पर उन्होंने सभी तरह की सभाओं पर रोक लगा दी थी और सिर्फ कुछ ही लोगों से मिलते थे।

Gyan Dairy

अधिकारियों के मुताबिक, अस्पताल में वह कड़ी निगरानी में हैं। जब से वह साल 2004 में रक्षा मंत्री बने थे तब से ही आर्मी आर एंड आर हॉस्पीटल इलाज के लिए उनकी सबसे पसंदीदा जगह बन गई थी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनकी बेटी और कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी से बात कर उनके पिता के स्वास्थ्य के बारे में हालचाल जाना। राष्ट्रपति कोविंद और कई नेताओं ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है।

एक तरफ जहां पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने मुखर्जी के स्वास्थ्य को लेकर चिंता जाहिर की और फौरन स्वस्थ होने की कामना की तो वहीं कांग्रेस नता राहुल गांधी, केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल और अन्य नेताओं ने ट्विटर पर मुखर्जी शीघ्र स्वास्थ्य की दुआ की।

Share