जालसाज शिक्षिका: सुप्रिया के पिता बोले हमारे साथ ठगी हुई, बताया मास्टरमाइंड कौन

लखनऊ। एक साथ 25 जिलों में नौकरी करके अचानक पूरे प्रदेश में हड़कंप मचाने वाली सुप्रिया सिंह के पुलिस के हत्थे चढ़ने के बाद रोज ​नए खुलासे हो रहे हैं। अब सुप्रिया के पिता महिपाल सिंह सामने आए हैं। उन्होंने बताया कि हमारे साथ धोखाधड़ी हुई है। महिपाल ने बताया कि उनकी कि दो बेटियां प्रतिभा और सुप्रिया हैं। बड़ी बेटी प्रतिभा हाई स्कूल करने के बाद पढ़ाई छोड़कर घर बैठी है। छोटी बेटी सुप्रिया ने ग्राम भटासा के रामदर्शनी राजकीय इंटर कॉलेज से इंटरमीडिएट व कायमगंज के शकुंतला देवी कॉलेज से बीए किया है। सुप्रिया ने बीएससी या बीएड की पढ़ाई नहीं की है।

महिपाल सिंह के मुताबिक बीए करने के दौरान उसकी मुलाकात मैनपुरी निवासी नीतू नाम के युवक से हो गई, वह उसे कंपिल में मिला था। उसने अपने को प्राथमिक स्कूल का शिक्षक बताया था। धीरे-धीरे नीतू का घर आना-जाना हो गया। बीए पास करने के बाद उसने सुप्रीया को संविदा पर नौकरी लगवाने के लिए डेढ़ लाख रुपए मांगे। जैसे-तैसे 50 हजार रुपए दिए और बाकी नौकरी लगने के बाद वेतन से काटने को कहा। इस पर नीतू राजी हो गया। उसने कासगंज के कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय में साइंस टीचर की नौकरी लगवाई थी। वेतन मिलने के बाद उसने एक लाख रुपए भी ले लिए।

Gyan Dairy

महिपाल ने बताया कि शुक्रवार को कासगंज के शिक्षा विभाग से फोन आया, तब उन्हें पूरी घटना की जानकारी हुई। तो उसने ही बेटे के साथ सुप्रिया को इस्तीफा देने के लिए भेजा था, लेकिन सुप्रिया वहां गिरफ्तार हो गई। भाई भी फंस गया। महिपाल ने बताया कि वह बहुत गरीब आदमी है। दो बीघा ही खेती है और जैसे-तैसे बच्चों को पढ़ाया। उसकी बेटी निर्दोष है, वह तो शातिर नीतू के झांसे में आकर ठगी का शिकार हुई और उसके डेढ़ लाख रुपए ठगे गए।

Share