गाजियाबाद हादसाः सीएम योगी बोले- दोषी इंजीनियर और ठेकेदार से होगी नुकसान की भरपाई, लगेगा NSA

लखनऊ। यूपी के गाजियाबाद के मुरादनगर में श्मशान घाट की छत गिरने से हुई मौतों के मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अख्तियार किया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नुकसान की भरपाई इंजीनियर और ठेकेदार से होगी। इसके साथ ही दोषियों पर रासुका भी लगाया जाएगा। मुख्यमंत्री की संख्ती के बाद मुरादनगर नगर पालिका परिषद की अधिशासी अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है। इसके साथ ही हादसे को लेकर कमिश्नर और जिलाधिकारी से स्पष्टीकरण भी मांगा गया है। माना जा रहा है कि इस मामले जल्द ही बड़े अधिकारियों पर भी गाज गिर सकती है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुरादनगर हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये की आर्थिक मदद देने की घोषणा की। उन्होंने हादसे को गंभीर लापरवाही मानते हुए आरोपियों पर राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत कार्रवाई करने का आदेश दिया है। सीएम ने कहा है कि ऐसी घटनाओं के लिए जिम्‍मेदार अफसरों के लिए शासन में कोई जगह नहीं है।

बता दें कि मुरादनगर हादसे में ठेकेदार, नगरपालिका की कार्यपालन अधिकारी समेत कई लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी। पुलिस ने अब तक ठेकेदार, ईओ, इंजीनियर और सुपरवाइजर को गिरफ्तार कर लिया है। ठेकेदार अजय त्यागी इस हादसे का मुख्य आरोपी है। गाजियाबाद पुलिस ने आरोपी ठेकेदार अजय त्यागी पर 25 हजार रुपये का ईनाम घोषित किया था।

Gyan Dairy

बता दें कि रविवार को मुरादनगर में श्मशान की छत गिरने के कारण 25 लोगों की मौत हो गई थी। पुलिस के मुताबिक गाजियाबाद के थाना मुरादनगर क्षेत्र के उखलारसी गांव में एक व्यक्ति की मृत्यु हो जाने पर परिजन और सगे संबंधी मृत व्यक्ति को दाह संस्कार के लिए श्मशान घाट लेकर पहुंचे थे। परिजन मृत व्यक्ति का अंतिम संस्कार कर ही रहे थे तभी श्मशान घाट की छत भरभरा कर गिर गई।

Share