सरकार प्रजातांत्रिक व्यवस्था, संवैधानिक मूल्यों व स्थापित परंपराओं के विपरीत खड़ी है : सोनिया गांधी

नई दिल्ली। देश आज 74वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। इस बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने देशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दीं। इसके बाद उन्होंने मोदी सरकार पर हमला बोला है। सोनिया गांधी ने कहा कि सरकार प्रजातांत्रिक व्यवस्था, संवैधानिक मूल्यों और स्थापित परंपराओं के विपरीत खड़ी है।

स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं देते हुए सोनिया गांधी ने कहा कि हमारे भारतवर्ष की ख्याति विश्व भर में न सिर्फ प्रजातांत्रिक मूल्यों और विभिन्न भाषा, धर्म, संप्रदाय के बहुलतावाद की वजह से है, बल्कि भारत प्रतिकूल परिस्थितियों का सामना एकजुटता के साथ करने के लिए भी जाना जाता है।

उन्होंने कहा कि आज जब समूचा विश्व कोरोना महामारी की महाविभीषिका से जूझ रहा है, तब भारत को एकजुट होकर इस महामारी को परास्त करने के प्रतिमान स्थापित करने होंगे। मैं पूरे आत्मविश्वास से कह सकती हूं कि हम सब मिलकर इस महामारी और गंभीर आर्थिक संकट की दशा से बाहर आ जाएंगे।

Gyan Dairy

उन्होंने कहा कि हमने बीते 74 वर्षों की स्वाधीनता में अपने प्रजातांत्रिक मूल्यों को समय-समय पर परीक्षा की कसौटी पर परखा है और उसे निरंतर परिपक्व किया है. आज ऐसा प्रतीत होता है कि सरकार प्रजातांत्रिक व्यवस्था, संविधान मूल्यों और स्थापित परंपराओं के विपरीत खड़ी है। भारतीय लोकतंत्र के लिए भी ये परीक्षा की घड़ी है।

Share