हरियाणा: गृह मंत्री अनिल विज के भाई कपिल से बदसलूकी के आरोप में डीआईजी अशोक कुमार सस्पेंड

चंडीगढ़। हरियाणा की मनोहर लाल सरकार ने गृह मंत्री अनिल विज के भाई कपिल विज के साथ बदसलूकी करने के आरोपी पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) अशोक कुमार को निलंबित कर दिया है। हरियाणा सरकार ने डीआईजी अशोक कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज होने के बाद मंगलवार को ये कदम उठाया है।

हरियाणा के गृह विभाग ने बताया कि निलंबन की अवधि में डीआईजी (सतर्कता) अशोक कुमार गुड़गांव के पास भोंडसी में क्षेत्रीय प्रशिक्षण केंद्र कार्यालय से संबद्ध रहेंगे। इससे पहले रविवार को सरहिंद क्लब में विवाद के बाद पुलिस ने गृह मंत्री अनिल विज के भाई कपिल विज की शिकायत पर डीआईजी अशोक कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। कपिल विज ने डीआईजी पर हमला करने और धमकी देने का आरोप लगाया है।

बता दें कि कपिल विज ने तहरीर में आरोप लगाया कि रविवार की दोपहर वह अपने दोस्त के पोते की जन्मदिन पार्टी में शरीक होने अंबाला छावनी में सरहिंद क्लब गए थे। पार्टी में डीआईजी अशोक कुमार भी आमंत्रित थे। इस दौरान किसी मुद्दे पर कपिल विज और डीआईजी अशोक कुमार के बीच बहस हो गई। शाम के समय कपिल विज ने अंबाला छावनी सदर थाने में डीआईजी के खिलाफ शिकायत दे दी।

Gyan Dairy

सोमवार को डीआईजी के आवेदन पर अंबाला अदालत के एक अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश ने उन्हें मंगलवार तक अंतरिम जमानत दे दी थी। अशोक कुमार के वकील सतींद्र गर्ग ने बताया कि अदालत ने मामले में सुनवाई की अगली तिथि 16 फरवरी तक जमानत की अवधि को बढ़ा दिया है और डीआईजी को जरूरत होने पर पुलिस जांच में शामिल होने के निर्देश दिए गए हैं।

Share