हाथरस कांड: CBI के सवालों से बिगड़ी पीड़िता की मां की हालत, खेत की मेढ़ पर बैठकर रोई

हाथरस। उत्तर प्रदेश के हाथरस में दलित युवती के साथ कथित गैंगरेप के मामले में सीबीआई अब तक करीब पांच चरणों में पीड़ित परिवार से पूछताछ कर चुकी है। सीबीआई की पूछताछ के बाद पीड़िता की मां खेत की मेढ़ पर बैठकर रोने लगी।सीबीआई टीम ने पीड़िता की मां, दोनों भाई, पिता और भाभी से कई बार अलग अलग पूछताछ की है। सीबीआई ने आरोपियों के साथ ही उनके परिजनों से भी पूछताछ की है। जबकि आरोपी पहले ही जेल से एसपी के नाम पत्र भेजकर खुद को निर्दोष बता चुके हैं। शुक्रवार को सीबीआई ने पीड़िता के बड़े भाई और मां को बुलाया। दोनों खुद को घटना के चश्मदीद बता रहे हैं। सीबीआई ने जब घटना स्थल पर लाकर पीड़िता की मां से सवाल दागे तो वह उनका जबाव देती रही। बाद में खेत की मेढ़ पर जाकर रोने बिलखने लगी। उसके रोने की आवाज सुनकर सीबीआई की एक महिला अफसर उसकी पास पहुंची।

मृतका के पिता ने कहा कि हर पल बेटी की याद आती है। उसे अपने हाथों से पाला था, लेकिन घटना स्थल को देखते ही रोना आता है। इसलिए पत्नी जब घटना स्थल पर पहुंची तो वह भी वहां खूब रोई है। पिता का कहना है कि जिसका आदमी जाता है दर्द केवल उसी को होता है।शुक्रवार को सीबीआई से पूछताछ के बाद जब मीडिया ने पीड़िता की मां और भाई से बातचीत करने की कोशिश की तो दोनों कमरे में चले गये। शुक्रवार को सीबीआई ने दो घंटे तक पीड़िता की मां व भाईसे बातचीत की। दो घंटे की लंबी पूछताछ के बाद दोनों लोग अपने घर पहुंच गये। थोड़ी देर बाद मीडिया के लोग उनसे बातचीत करने के लिए पहुंचे तो मां बेटे दोनों अपने कमरे में चले गये। पीड़िता के पिता ने कहा कि वह परेशान है। सिर में दर्द है। इसलिए वह बातचीत नहीं कर पायेंगे। पीड़ित परिवार का यह सिलसिला एक सप्ताह से चल रहा है।

Gyan Dairy
Share