राहुल गांधी राजी नहीं हुए तो अशोक गहलोत बनेंगे कांग्रेस पार्टी के मुखिया !

नई दिल्ली। लगातार दो लोकसभा चुनाव हारने के बाद कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष की कुर्सी खाली चल रही है। अंतरिम अध्यक्ष के रूप में सोनिया गांधी कुर्सी पर बैठी हैं। लेकिन लगातार स्वास्थ्य कारणों के चलते वह इस पद पर स्थाई रूप से नहीं रहना चाहती हैं। चर्चा ये भी है कि वाॅयनाथ से सांसद राहुल गांधी भी पार्टी के अध्यक्ष पद पर नहीं बैठना चाहते। ऐसे में पार्टी की कोर कमेटी की निगाह राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर जाकर टिक गई है। माना जा रहा है कि अगर राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष का पद दुबारा संभालने को तैयार नहीं हुए तो अशोक गहलोत को ये जिम्मेदारी दी जा सकती है।

कांग्रेस पार्टी को कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी की जगह स्थाई अध्यक्ष देने का विचार चल रहा है। एक तरफ राहुल गांधी के समर्थक उनके इस्तीफा के बाद दोबारा उन्हें अध्यक्ष बनने के लिए मना रहे हैं। हालांकि राहुल गांधी ने अभी तक इस बात पर हामी नहीं भरी है। अब जो भी कांग्रेस अध्यक्ष बनेगा उसे राहुल गांधी के कार्यकाल का शेष बचा समय मिलेगा।

ऐसे में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने विचार किया है कि अगर राहुल गांधी तैयार नहीं होते हैं किसी और को पार्टी का अध्यक्ष बनाया जाएगा। इस कश्मकस में पार्टी के पुराने भरोसेमंद और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम सामने आया है। गहलोत को पार्टी के नए पुरानों के बीच बेहतर तालमेल बैठाने वाला बताया जा रहा है।

Gyan Dairy

बताया जा रहा है कि विगत वर्ष भी अशोक गहलोत को ये प्रस्ताव दिया गया था। हालांकि वे राजस्थान के मुख्यमंत्री का पद छोडऩे को तैयार नहीं हुए। ऐसे में माना ये जा रहा है कि ये अशोक गहलोत को ही तय करना है कि राजस्थान में ही रहना चाहते हैं या फिर दिल्ली की सियासत में उतरना चाहते हैं।

Share