UA-128663252-1

दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली, छठ पर लोगों को घर पहुंचाने को ट्रेनों की संख्या में बढ़ोत्तरी

नई दिल्ली। दुर्गा पूजा, दशहरा, दिवाली और छठ पर लोगों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए ट्रेनों की संख्या में बढ़ोतरी की जा रही है। रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और सीईओ वीके यादव ने बताया कि भारतीय रेल त्यौहारी सीजन में 15 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच 200 विशेष ट्रेनें चलाने की योजना बना रही है। भारतीय रेलवे ने कुछ स्पेशलों ट्रेनों के फेरे (आने-जाने) को बढ़ा दिए हैं। रेलवे के इस ऐलान से झारखंड, बिहार और बंगाल में रहने वाले लोगों को लाभ मिलेगा।
भारतीय रेलवे ने पूर्वा एक्सप्रेस स्पेशल ट्रेन के फेरे बढ़ाए हैं। इसकी जानकारी देते हुए ईस्टर्न रेलवे ने ट्रेनों की लिस्ट भी जारी की है। जिसमें ट्रेनों के रूट, समय सारिणी की जानकारी दी गई है। भारतीय रेलवे ने पूर्वा एक्सप्रेस के फेरों में बढ़ोतरी की है। ये ट्रेनें दिल्ली से हावड़ा के बीच चलती हैं। जो पटना और धनबाद होते हुए अपने गंतव्य तक पहुंचती हैं। आइए जानते हैं किन ट्रेनों के फेरे बढ़ाए गए हैं। दक्षिण पूर्व रेलवे ने रेलवे बोर्ड को 41 मेल/एक्सप्रेस ट्रेनें चलाने का प्रस्ताव भेजा है। इन 41 ट्रेनों की सूची में झारखंड के तीन स्टेशनों से खुलने वाली कुल 20 ट्रेनें शामिल हैं।

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और सीईओ वीके यादव के मुताबिक जोन के महाप्रबंधकों के साथ बैठक कर निर्देश दिया गया है कि वे स्थानीय प्रशासन से बातचीत कर कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति की समीक्षा करें। फिलहाल अनुमान है कि करीब 200 ट्रेनें चलेंगी, लेकिन यह हमारा अनुमान है, संख्या और ज्यादा भी हो सकती है। इससे पहले वीके यादव ने बताया था कि भारतीय रेल त्योहारी सीजन में 15 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच 200 विशेष ट्रेनें चलाने की योजना बना रही है। रेलवे ने फिलहाल सभी सामान्य यात्री ट्रेनों को अनिश्चितकाल के लिए रद्द कर दिया है। ये ट्रेनें 22 मार्च से रद हैं। रेलवे ने दिल्ली को देश के विभिन्न भागों से जोड़ने वाली 15 विशेष राजधानी ट्रेनें का संचालय 12 मई से और एक जूने से लंबी दूरी की 100 ट्रेनों का संचालन शुरू किया है। रेलवे 12 सितंबर से 80 अतिरिक्त ट्रेनें भी चला रही है।

Gyan Dairy
Share