लालकिला से नरेंद्र मोदी कश्मीर को लेकर बोले न गाली से न गोली से, परिवर्तन होगा गले लगाने से

देश की आजादी की 70वीं वर्षगांठ पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लालकिला पर तिरंगा फहराया. लालकिले के प्राचीर से देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर को लेकर खास संदेश दिया. पीएम मोदी ने कश्मीर की समस्या समाधान के लिए नारा दिया, न गाली से न गोली से, परिवर्तन होगा गले लगाने से उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर की जनता और सरकार के साथ पूरा दश है. हम कश्मीर को फिर स्वर्ग बनाएंगे. कश्मीर में मुट्ठी भर अलगाववादी माहौल खराब कर रहे हैं. पीएम मोदी ने कहा कि न गाली से समस्या सुलझेगी, न गोली से समस्या सुलझेगी, सिर्फ उन्हें गले लगाकर समस्या का हल होगा. साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि आतंकवाद से कोई समझौता नहीं होगा. सभी को मुख्यधारा से जोड़ा जाएगा. उन्होंने कहा कि सुरक्षाबलों के प्रयासों से लोग अब मुख्यधारा से जुड़ रहे हैं. नक्सलवाद कम हो रहा है.

इससे पहले पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के पावन अवसर पर देशवासियों को कोटि कोटि शुभकामनाएं. उन्होंने कहा कि आज पूरा देश स्वतंत्रता दिवस के साथ जन्माष्टमी का पर्व भी मना रहा है. उन्होंने कहा कि सुदर्शन चक्र धारी मोहन से लेकर चरखा धारी मोहन तक हमारी विरासत है. देश की आजादी के लिए, देश की आन बान शान के लिए, देश के गौरव के लिए हजारों लोगों ने बलिदान दिया, यातनाएं झेली हैं, उन सभी महानुभावों को, माता बहनों को सवा सौ करोड़ देश वासियों की ओर से उनको नमन करता हूं.

तब भारत छोड़ो का नारा था, अब भारत जोड़ो: आजादी के वक्त को याद करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से अपील की कि वे आपसी मेल-मिलाप को बढ़ाएं. उन्होंने हर संप्रदाय, धर्म, जाति और गरीब को एक साथ लेकर देश को आगे बढ़ाने को कहा. देश की एकता को कायम रखने के लिए उन्होंने नारा दिया, तब भारत छोड़ो का नारा था, अब भारत जोड़ो.

Gyan Dairy

पीएम मोदी ने कहा कि कभी कभार प्राकृतिक आपदा हमारे लिए चुनौती बन जाती है. अच्छी वर्षा से देश को फलने फूलने में योगदान देती है. लेकिन जलवायु परिवर्तन से प्राकृतिक आपदा भी आई.

Share