भारत-चीन सीमा विवाद: बतचीत से तनाव कम करने की कोशिश, कमांडर-स्तर के अफसरों की वर्ता शुरू

जम्मू। लद्दाख के गलवान घाटी में 15 जून को भारत और चीन की सेनाओं के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव काफी बढ़ गया है। लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LAC) पर जारी तनाव को कम करने के लिए आज फिर भारत-चीन के बीच कमांडर-स्तर की बातचीत शुरू हो गयी है। यह बैठक चुसुल-मोल्डो बॉर्डर प्वाइंट पर हो रही।

इससे पहले छह जून को हुई बैठक भी मोल्डो में ही आयोजित की गई थी। सेना के सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है। बता दें कि, इससे पहले छह जून को दोनों पक्षों के बीच कॉप्र्स कमांडर स्तार की बातचीत हुई थी। इसे लेकर विदेश मंत्रालय ने कहा था कि दोनों पक्ष स्थिति को सुलझाने और सीमा क्षेत्रों में शांति और स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए सैन्य और कूटनीतिक जुड़ाव जारी रखेंगे।

मंत्रालय ने कहा था कि दोनों पक्ष विभिन्न द्विपक्षीय समझौतों के अनुसार सीमावर्ती क्षेत्रों में शांतिपूर्वक हल करने के लिए सहमत हुए और नेताओं के बीच द्विपक्षीय संबंधों को ध्यान में रखते हुए भारत-चीन सीमा क्षेत्रों में शांति और स्थिरता समग्र विकास के लिए आवश्यक है। इसके बाद भी दोनों देशों के बीच सीमा विवाद जारी है।

Gyan Dairy

 

Share