भारत ने ब्रिक्स बैंक से 2 अरब डॉलर का लोन देने का अनुरोध किया : जेटली

भारत ने ब्रिक्स देशों द्वारा स्थापित नव विकास बैंक (एनडीबी) या ब्रिक्स बैंक से अपनी ढांचागत क्षेत्र की परियोजनाओं के वित्तपोषण के लिये दो अरब डालर का रिण मांगा है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आज इस पर जोर देते हुये कहा कि इस बहुराष्ट्रीय वित्त एजेंसी को इसमें तेजी दिखानी चाहिये। जेटली ने कहा कि बैंक को अपनी उस भूमिका के प्रति सजग रहना चाहिये जो कि उसके संस्थापकों ने उसे सौंपी है। उन्होंने कहा कि भारत में अगले पांच साल के दौरान ढांचागत क्षेत्र में करीब 43 लाख करोड़ रपये :646 अरब डालर: की आवश्यकता है।

जेटली ने याद दिलाया कि एनडीबी का गठन क्षेत्र में अनवरत ढांचागत विकास को बढ़ावा देने के लिये किया गया है। उन्होंने कहा कि एनडीबी के साथ भारत ने पहला समझौता मध्य प्रदेश में जिला सड़कों के निर्माण के लिये कुछ दिन पहले ही किया है।

उन्होंने कहा इसमें से 70 प्रतिशत राशि बिजली, सड़क और शहरी ढांचागत क्षेत्र में चाहिये। इससे एनडीबी जैसे संस्थानों के लिये व्यापक अवसर उपलब्ध हुये हैं।

Gyan Dairy

वित्त मंत्री ने कहा कि एनडीबी के साथ भारत ढांचागत क्षेत्र की अनेक परियोजनाओं को विकसित करने के लिये काम करेगा। इनमें स्मार्ट सिटी परियोजना, अक्षय उर्जा, शहरी परिवहन, मेट्रो रेलवे, स्वच्छ कोयला प्रौद्योगिकी, ठोस कचरा प्रबंधन और शहरी जलापूर्ति जैसी अनेक परियोजनायें शामिल हैं।

Share