एक साथ दिखेगी भारत-अमेरिका की ताकत, 8 को करेंगे युद्धाभ्यास

नई दिल्ली। भारत-अमेरिका के संयुक्त सैन्य अभ्यास का 16 वां संस्करण युद्ध अभ्यास 8 फरवरी से 21 फरवरी के बीच राजस्थान में महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में आयोजित किया जाएगा। इस अमेरिकी सेना प्रशांत प्रायोजित अभ्यास में लगभग 250 अमेरिकी और 250 भारतीय सेना के सैनिक शामिल होंगे। बता दें कि भारत-पाकिस्तान सीमा के पास अभ्यास का उद्देश्य दोनों सेनाओं के बीच सहयोग और अंतर को बढ़ाना है और संयुक्त राष्ट्र के जनादेश के तहत आतंकवाद-रोधी अभियानों पर ध्यान केंद्रित करना होगा। जानकारी के मुताबिक, यह सैन्य अभ्यास 21 फरवरी तक चलेगा।
रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल अमिताभ शर्मा ने कहा, इस सैन्य अभ्यास के लिए अमेरिका का दल 5 फरवरी को भारत पहुंचेगा। प्रवक्ता के मुताबिक, इस सैन्य अभ्यास में भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व सप्त शक्ति कमान की 11 वीं बटालियन जम्मू और कश्मीर राइफल्स करेगी वहीं अमेरिकी सेना के प्रतिनिधिमंडल का प्रतिनिधित्व 2 इन्फैंट्री बटालियन, 3 इन्फैंट्री रेजिमेंट, 1-2 स्ट्राइकर ब्रिगेड कॉम्बैट टीम के सैनिक करेंगे।एक बयान के अनुसार संयुक्त राष्ट्र जनादेश के तहत यह युद्धाभ्यास आतंकवाद विरोधी अभियानों पर केंद्रित होगा। एक बयान के अनुसार, संयुक्त सैन्य युद्धअभ्यास काउंटर आतंकवाद संचालन पर केंद्रित होगा। यह युद्धअभ्यास दो देशों की सेनाओं के बीच के सहयोग, तालमेल और रक्षा सहयोग के स्तर को बढ़ाएगा। इसके अलावा अमोरिका और भारत के इस सैन्य अभ्यास से दो देशों के बीच के द्विपक्षीय संबंध भी काफी मजबूत होंगे।

Gyan Dairy
Share