blog

आठ करोड़ की लागत से तैयार होगा नए राष्ट्रपति का नया ‘सैलून’

Spread the love

देश के अगले राष्ट्रपति का चुनाव होना अभी बाकि है, लेकिन रेलवे ने नए राष्ट्रपति की यात्रा के लिए आठ करोड़ की लागत से नए सैलून प्रक्रिया शुरू कर दी है.

अभी जो सैलून है वो 1956 का बना हुआ है और इसमें देश के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद और डॉ राधाकृष्णन से लेकर कई और पूर्व राष्ट्रपतियों ने 87 यात्राएं की हैं. इस सैलून से आखरी बार यात्रा करने वाले राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दूल कलाम थे. उन्होंने 2006 में इससे यात्रा की थी. इसी साल इस खास ट्रेन के कई डिब्बों को रेलवे ने परिचालन के हिसाब से अयोग्य करार दिया था.

आपको बताते चलें कि राष्ट्रपति के भ्रमण या यात्रा के लिए एक खास ट्रेन होती है जिसे सैलून कहा जाता है. सैलून में सभी खास और आधुनिक सुविधाएं रहती हैं. रेलवे इस परियोजना को मंजूरी के लिए नए राष्ट्रपति के पास जुलाई में भेजेगा.

2007-08 के रेल बजट में नए सैलून बनाने के लिए छ करोड़ की मंजूरी दी गई थी.

You might also like