भारत की बड़ी तेल रिफाइनरी आईएसआई के निशाने पर.

खुफिया एजेंसियों ने पाकिस्तानी जासूसों के कुछ ऐसे ही कॉल्स को पकड़ा है, जिनमें वे खुद को भारतीय खुफिया एजेंसियों का नुमाइंदा बताकर इन रिफाइनरियों में अधिकारियों को फोन कर महत्वपूर्ण जानकारियां जुटा रहे थे. इनमें से कुछ कॉल्स भारत के बाहर से थे. कुछ कॉल देश के भीतर से भी किए जाने की बात भी सामने आई है.हाल ही में पाकिस्तान का एक ऑपरेटिव खुद को रिसर्च एंड एनालिसिस विंग का सदस्य बताकर राजस्थान स्थित एक तेल रिफाइनरी के अधिकारी से फ़ोन पर संवेदनशील हाइड्रोकार्बन पाइपलाइन से जुड़ी जानकारी ले रहा था. यही बातचीत ख़ुफ़िया एजेंसी के राडार पर आ गई.

यही वजह है कि सीमावर्ती राज्यों में मौजूद रिफाइनरियों में किसी भी अनहोनी को ध्यान में रखते हुए इस बारे में मॉक ड्रिल्स हो रही है ताकि किसी अप्रिय हालात से निपटा जा सके. किसी तेल रिफाइनरी पर आतंकी हमला बेहद घातक सिद्ध हो सकता है. जानमाल के नुकसान के साथ-साथ यह देश की अर्थव्यवस्था को भी बड़ा नुकसान पहुंचा सकता है.

Gyan Dairy
Share