31 जुलाई तक बढ सकता है लॉकडाउन, इन शर्तों के साथ होगा काम

नई दिल्ली। कोरोना वायरस संकट के कारण देशभर में 24 मार्च से लॉकडाउन जारी है। लेकिन देश में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा लगातार बढ़ता चला जा रहा है। फिलहाल देश में 3 मई 2020 तक लॉकडाउन लागू है, लेकिन ये लॉकडाउन कब तक चलेगा, इस बारे में कोई स्पष्ट जानकारी नहीं।

ऐसे में कंपनियां वर्क फ्रॉम होम जारी रखने की तैयारी में हैं। फिलहाल हरियाणा के गुरुग्राम की कई बड़ी मल्टी नेशनल कंपनिया, आईटी कंपनियां और BPO कंपनियां अपने कर्मचारियों से घर से काम कराना जारी रख सकती है। कंपनियां हरियाणा सरकार द्वारा एक आकलन के आधार पर ये फैसला कर सकती हैं।

फिलहाल लॉकडाउन खत्म होने की उम्मीद कम ही है। इनसबके बीच कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से कई स्थानों पर लोग घर से काम कर रहे हैं। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वजह से वर्क फ्रॉम होम अभी और आगे चलते रहने की पूरी संभावना है। गुरुग्राम में कई बड़ी MNCs, IT, BPO कंपनियां हैं जिनके कर्मचारी घर से काम कर रहे हैं। हरियाणा सरकार में एक सीनियर अधिकारी की माने तो गुरुग्राम में जुलाई तक वर्क फ्रॉम होम चलता रहेगा।

Gyan Dairy

गुड़गांव मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी के सीईओ वी एस कुंडू ने रविवार को कहा कि शहर में एमएनसी, आईटी और बीपीओ से कपंनियों को अपने कर्मचारियों को जुलाई महीने के अंत तक वर्क फ्रॉम होम की अनुमति देनी होगी। कुंडू हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव भी हैं। उन्होंने कहा कि डीएलएफ सहित कई रियल एस्टेट परियोजनाओं को निर्माण फिर से शुरू करने के लिए हरी झंडी मिल गई है, लेकिन इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना होगा।

हालांकि गृ​ह मंत्रालय की ओर से कुछ सेक्टर्स और जगहों पर लॉकडाउन में 20 अप्रैल से ढील दी गई है। इसके दायरे में खेती, कंस्ट्रक्शन आदि समेत आईटी कंपनियां भी आ रही हैं। इसके अलावा सरकार ने ग्रामीण और शहरी इलाकों में गली-मोहल्ले की दुकानों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए लॉकडाउन से राहत दी है।

Share