घर से भागे प्रेमी जोड़ों को भगवान शिव देते हैं शरण, जानें रहस्यमयी मंदिर का इतिहास

नई दिल्ली। हमारे देश में प्राचीन काल से ही भाग कर शादी करने का प्रचलन रहा है। आज भी कई जोड़े परिवार के डर से भागकर शादी करते हैं। आज हम आपको एक ऐसे अनोखे शिव मंदिर के बारे में बताने जा रहे है जहाँ प्रेमी जोड़ो को शरण दी जाती है। माना जाता है कि भगवान महादेव स्वयं प्रेमी जोड़ों की रक्षा करते हैं।

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू स्थित शांघड़ गांव में मौजूद महाभारत काल के शंगचूल महादेव मंदिर में घर से भागे हुए प्रेमी जोड़ों को शरण मिलती है। इस मंदिर में प्रेमी जोड़ो के आलावा किसी को भी शरण नहीं दी जाती है और यहाँ आने के बाद प्रेमी जोड़े खुद को सुरक्षित समझ लेते हैं। शंगचूल महादेव मंदिर करीब 100 बीघा में फैला हुआ है। जब इस सीमा में कोई प्रेमी जोड़ा पहुंचता है उसे महादेव की शरण में आया हुआ कहा जाता है।

Gyan Dairy

प्रेमी जोड़े जब तक मंदिर की सीमा में रहते है तब तक उनके परिजन उन्हें कुछ नहीं कह सकते है और पुलिस भी इस जोड़े को कुछ नहीं कह सकती है। इस मंदिर के पंडित उस जोड़े की खूब खातिरदारी करते है और मंदिर को लेकर कहा जाता है कि ”अज्ञातवास के समय पांडव यहां कुछ समय के लिए ठहरे थे और उनका पीछा करते हुए कौरव भी वहां पहुंच गए। तब शंगचूल महादेव ने कौरवों को रोका और कहा कि ये मेरा क्षेत्र है और जो भी मेरी शरण में आएगा उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share