सैफुल्लाह एनकाउंटर की मैजिस्टीरियल जांच के आदेश

उत्तर प्रदेश की योगी सरकरा ने सैफुल्लाह मुठभेड़ मामले की जांच के आदेश दिए हैं। सरकार ने इसकी मजिस्ट्रेट से जांच के आदेश दिए हैं।

गौरतलब है कि पिछले महीने 8 मार्च को एटीएस की टीम ने उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ऑपरेशन कर सैफुल्लाह नाम के एक संदिग्ध को मार गिराया था। एटीएस ने सैफुल्लाह के पास से खतरनाक हथियार और दस्तावेज बरामद करने का दावा किया था।

पुलिस ने दावा किया था कि मध्य प्रदेश में हुए ट्रेन बम धमाके सैफुल्लाह का हाथ था। यूपी एटीएस के आईजी असीम अरूण ने तब कहा था कि सैफुल्लाह को जिंदा पकड़ने की हरमुमकिन कोशिश की गई थी। उन्होंने बताया था कि पहले कैमरों में देखने पर ऐसा लग रहा था कि वहां दो आतंकी छिपे हैं, लेकिन अंदर एक ही आतंकी छिपा था।

Gyan Dairy

पुलिस ने दावा किया था कि सैफुल्लाह जिस घर में छुपा था वहां से आईएसआईएस से जुड़े कई दस्तावेज और भारी संख्या में गोला-बारुद बरामद हुए थे। यूपी एटीएस के मुताबिक सैफुल्लाह आईएसआईएस से प्रभावित खुरासान माड्यूल का सदस्य था। हालांकि बाद में उत्तर प्रदेश के एडीजी दलजीत सिंह चौधरी ने खुलासा किया कि सैफुल्लाह और उसके साथियों का आईएसआईएस से कोई सीधा संपर्क नहीं था।

 

Share