महाराष्ट्र: आईपीएस परमबीर सिंह की मुश्किलें बढ़ीं, रंगदारी मांगने का मुकदमा दर्ज

मुंबई। एंटीलिया केस में मुंबई पुलिस कमिश्नर पद से हटाए गए आईपीएस अफसर परमबीर सिंह की मुश्किलें बढ़ गई हैं। पहले से ही भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे आईपीएस परमबीर सिंह के खिलाफ मरीन ड्राइव पुलिस थाने में रंगदारी का एक मुकदमा दर्ज किया गया है। आईपीएस अफसर परमबीर सिंह पर एक बिजनेसमैन ने रिश्वत मांगने का आरोप है।

इससे पहले उद्धव सरकार ने मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों की जांच के लिए भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो को अनुमति दी है। मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन में एक व्यवसायी ने पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह समेत 8 लोगों के खिलाफ रंगदारी का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने अब तक दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

Gyan Dairy

पीड़ित ने एफआईआर में आरोप लगाया कि परमबीर सिंह ने उसके खिलाफ कुछ मामलों के निपटारे के लिए 15 करोड़ रुपए के रिश्वत की मांग की गई थी। परमबीर सिंह 1988 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। एंटीलिया के बाहर से एक स्कार्पियो में विस्फोटक मिलने के मामले में पुलिस अधिकारी सचिन वाजे की गिरफ्तारी के बाद परमबीर सिंह को मुंबई के पुलिस आयुक्त पद से हटाकर डीजी होमगार्ड बना दिया गया था। इस मामले में महाराष्ट्र के तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख को इस्तीफा देना पड़ा था।

Share